क्राइम

यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्ष का रोड रेज में मर्डर, बीच सड़क काट दिया गला

पुणे : यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्ष रेखा भाऊसाहेब जरे पाटिल की धारदार हथियार से गला काट कर हत्या कर दी गई है। अहमदनगर पुलिस के मुताबिक, सोमवार देर शाम अहमदनगर-पुणे हाइवे पर किसी अज्ञात शख्स ने हमला किया है। रेखा अहमदनगर की प्रभावशाली महिला नेता मानी जाती थीं। उन्होंने कई सामाजिक मुद्दों को उठाते हुए आंदोलन किए थे। रेखा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में भी सक्रिय थीं। उनकी हत्या के बाद अहमदनगर में तनाव की स्थिति है। पुलिस फिलहाल इसे रोड-रेज का मामला मान जांच को आगे बढ़ा रही है।

मामूली कहासुनी में हुआ हमला
रेखा जरे अपनी कार से अहमदनगर आ रही थीं। उप-विभागीय पुलिस अधिकारी विशाल धूम ने बताया कि कार में डॉक्टर रेखा के साथ उनकी मां और बेटा भी था। हाइवे पर शिरूर गांव के पास बाइक सवार ने उनकी कार में टक्कर मार दी। इसके बाद दोनों के बीच कहासुनी हो गई, इतने में बाइक सवार एक युवक ने धारदार हथियार से रेखा जरे के गले पर हमला कर दिया और मौके से फरार हो गया। पुलिस के मुताबिक, हमले के बाद उन्हें अस्पताल लाया गया था, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। उधर, वारदात के बाद बाइक सवार दोनों हत्यारे आराम से वहां से निकल गए और भीड़ होने के बावजूद किसी ने उन्हें रोकने का प्रयास नहीं किया।

आरोपी की तलाश के लिए दो टीमें गठित
पुलिस के मुताबिक, बाइक सवार की तलाश के लिए दो टीमों का गठन किया गया है। दोनों टीमें बाइक सवार की तलाश में जुट गई है। हाइवे पर लगे CCTV कैमरे की फुटेज खंगाली जा रही है। अभी पुलिस को कोई बड़ा सुराग नहीं मिल पाया है। पुलिस अब इस बात की जांच कर रही है कि हमला पहले से प्रायोजित था या आवेश में किया गया मामला है।

महिलाओं के मुद्दों को लेकर किए कई आंदोलन
रेखा जरे की हत्या की जानकारी मिलते ही NCP के स्थानीय विधायक संग्राम जगताप जिला अस्पताल पहुंचे और घटना की जानकारी ली। महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए यशस्विनी महिला ब्रिगेड कई साल से काम कर रहा था। समय-समय पर संगठन ने महिलाओं के विभिन्न मुद्दों को उठाते हुए पुणे और अहमदनगर में प्रदर्शन भी किए थे।

Back to top button