उत्तर प्रदेश

मैनपुरी : रोजगार सेवक और जेई जुगलबंदी से सरकार को चूना

मैनपुरी। ब्लाक जागीर की ग्राम पंचायत ब्योतीकलां में मनरेगा जेई से मिलीभगत करके रोजगार सेवक धांधली करके सरकार को चूना लगा रहा है। मजदूरो के कार्य की हाजिरी से लेकर चकरोड डलवाने सहित मनरेगा के लगभग सभी कार्यो में बड़े स्तर पर रोजगार सेवक के द्वारा धांधली की जा रही है। रोजगार सेवक के द्वारा की जा रही धांधली में मनरेगा जेई बराबर का सहभागी है। जिसने रोजगार सेवक से परसेंट तय कर ली है।

जागीर ब्लॉक की ग्राम पंचायत ब्योतीकलां में पंचायत के रोजगार सेवक विक्रम सिंह के द्वारा मनरेगा से विकास कार्य कराए जाते है। ग्रामीण मुकेश कुमार के अनुसार मनरेगा से कोई भी कार्य कराने के दौरान मौके पर पांच से छह मजदूर कार्य करते है। और रोजगार सेवक रजिस्टर में चार गुना मजदूरो की हाजिरी लगाता है। जिनकी हाजिरी लगाई जाती है। उनसे रोजगार सेवक ने मिलीभगत कर ली है।

मनरेगा के ज्यादातर काम केवल कागजो पर पूर्ण हो जाते है। जब तक धरातल पर यह काम देखने को नही मिलते है। मनरेगा से कराएं गए कार्यो का सत्यापन करने के लिए ब्लॉक से ग्राम पंचायत पर तैनात मनरेगा जेई राजेश कुमार मौके पर आते है। जेई के द्वारा भ्रष्ट रोजगार सेवक से रिश्वत के तौर साढ़े बारह प्रतिशत रकम लेकर फर्जी कार्यो को हरी झंडी दे दी जाती है। रोजगार सेवक और मनरेगा जेई की मिलीभगत से मनरेगा के ज्यादातर काम केवल कागजो पर ही पूर्ण हो रहे है। रोजगार सेवक और मनरेगा जेई के द्वारा की जा रही धांधली को देखकर ग्रामीणों ने भष्ट रोजगार और जेई के खिलाफ कार्रवाई की मांग डीएम महेन्द्र बहादुर सिंह से की है।

मीडिया  के पास है धांधली के सबूत
ग्राम पंचायत ब्योतीकलां में रोजगार सेवक और मनरेगा जेई के द्वारा मनरेगा के कार्यो में की जा रही धांधली के सबूत मीडिया  के पास मौजूद है। रोजगार सेवक और जेई के फर्जीवाड़े के लेनदेन के दौरान एक ग्रामीण के द्वारा बीडियो बना ली गई। जो मीडिया  के पास मौजूद है।

इनका कहना हैं
मामला संज्ञान में नही है पूरे मामले की बारीकी से जांच कराई जाएगी। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा। उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।- विनोद कुमार सीडीओ मैनपुरी।

Back to top button