उत्तर प्रदेश

मैनपुरी : मनरेगा में भ्रष्ट्राचार को बढ़ावा देने वालों पर आखिर कब होगी कार्रवाई

– धांधली का खेल उजागर होने के बाद दोनां पर नहीं हुई कोई कार्रवाई
मैनपुरी। विकास खंड जागीर की ग्राम पंचायत ब्योंतीकलां में भ्रष्ट्राचार को बढ़ावा देने वाले रोजगार सेवक और जेई मनरेगा पर प्रशासन की कार्रवाई का ग्राम पंचायत के लोग इंतजार कर रहे हैं। मनरेगा में खेला करने वाले भ्रष्ट्र दिनदूनी रात चौगुनी तरक्की कर रहे हैं। रोजगार सेवक और मनरेगा जेई का रिश्वत का खेल उजागर होने के बाद इसके खिलाफ प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई। इसीलिए इनके हौंसले बुलंद हैं। जो खुलेआम कह रहे हैं हम तो ऐसे ही काम करेगे। हमारा कोई कुछ नहीं कर सकता है।

विकास खंड जागीर की ग्राम पंचायत ब्योतीकलां में रोजगार सेवक विक्रम सिंह द्वारा मनरेगा के कार्यो में मजदूरों की हाजिरी से लगाकर, फर्जी काम केवल कागजांे ही कराकर धांधली की जा रही है। धांधली के इस कार्य में मनरेगा जेई राजेश कुमार की बराबर की सहभागिता है। जो भ्रष्ट्र रोजगार सेवक से सुविधा शुल्क के नाम पर साढ़े बारह प्रतिशत रकम लेकर उसके फर्जी कार्यों को हरी झंडी दे रहे हैं। ग्राम वासी मुकेश कुमार बताते हैं कि मनरेगा में धांधली का काम लंबे समय से चल रहा है। रोजगार सेवक ग्राम पंचायत में दावा ठोंकता है कि उसे सत्ता पक्ष के नेताओं का संरक्षण मिला हुआ है। उसका कोई कुछ नहीं कर सकता। वह अपने धांधली के काम को ऐसे ही बेखौफ होकर अंजाम देता रहेगा। धांधली के काम का ग्रामीण विरोध करते हैं। तो उसे झूठे केस में लंबे समय के लिए जेल भिजवाने की धमकी दी जाती है। रोजगार सेवक के हौंसले बुलंद बताएं जाते हैं।


चार दिन पहले हुआ धांधली का खेल उजागर

ग्राम पंचायत ब्योतीकलां में रोजगार सेवक और मनरेगा जेई की धांधली का खेल चार दिन पहले उजागर होने के बाद दोनांे भ्रष्ट्रों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसके चलते दोनों को आने वाले समय में फिर से धांधली और ज्यादा करने का बल मिल रहा है। रोजगार सेवक से तो ग्राम पंचायत के लोग वैसे ही परेशान हैं। उन्हें मजदूरी नहीं मिल रही है। जब कि सरकारी दस्तावेजांे में ग्रामीणों को मजदूरी बराबर मिल रही है।
वर्जन – विनोद कुमार सीडीओ मैनपुरी।  मामला संज्ञान में आने के बाद जांच कराई जा रही है। जांच में जो भी तथ्य सामने आयेगें। उन तथ्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Back to top button