देश

मेडिकल स्टोर से बेच रहा था किराना सामान, ऐसी प्लानिंग से पकड़ा गया रंगे हाथ

चिरमिरी. बड़ा बाजार अग्रवाल मेडिकल स्टोर (Medical Store) से किनारा सामानों की बिक्री करने पर ५ हजार रुपए जुर्माना लगाया गया है। नायब तहसीलदार विभोर यादव के नेतृत्व में चिरमिरी पुलिस टीम छापा मारने पहुंची। मेडिकल स्टोर संचालक को रंगे हाथों पकडऩे नायब तहसीलदार दुकान से कुछ दूर काफी देर तक बैठे रहे।

बताया जा रहा है लॉकडाउन (Lockdown) में मेडिकल स्टोर के बहाने दुकान संचालक अंदर अचार, कोल्डड्रिंक, खाने-पीने का सामान बेच रहा था, जिसकी स्थानीय लोगों ने शिकायत की थी। प्रशासनिक टीम ने कई बार संचालक को समझाइश दी। लेकिन अग्रवाल मेडिकल स्टोर में नियमों को परे रखकर किराना व अन्य सामानों की बिक्री की जा रही थी। इस पर जांच कर कार्रवाई की है।

चिरमिरी बड़ा बाजार स्थित अग्रवाल मेडिकल स्टोर द्वारा कलक्टर (Koria Collector) के आदेश का उल्लंघन करने की शिकायतें मिल रही थी। स्थानीय पुलिस द्वारा भी दुकान संचालक को बार-बार समझाइश दी गई थी। बावजूद मेडिकल स्टोर संचालक पर कोई असर नहीं पड़ा। मामले में मंगलवार को नायब तहसीलदार विभोर यादव अपने दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे।

जहां टीम ने मेडिकल स्टोर संचालक को किराना सामान बिक्री करते रंगे हाथों पकड़ा गया। तहसीलदार यादव ने कहा कि गली-मोहल्ले के किराना दुकानों के लिए सुबह 6 से 10 तक समय निर्धारित है।

परंतु उक्त दुकानदार मनमानी कर दिनभर किराना सामानों की बिक्री कर रहा था। ऐसे में संचालक पर 5 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया और नियमों का पालन करने समझाइश दी गई है। भविष्य में उल्लंघन करने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

कई बार दी गई थी समझाइश
स्थानीय पुलिस द्वारा अग्रवाल मेडिकल स्टोर्स के संचालक को कई बार मेडिकल (Medical store) की आड़ में किराने का का कारोबार नहीं करने की समझाइश दी गई थी। परंतु दुकानदार द्वारा नियमों को परे रखकर अचार, नूडल्स आदि सामान बेचा जा रहा था।

वहीं दूसरी ओर नायब तहसीलदार यादव अपने दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे थे। कुछ देर मेडिकल स्टोर्स के बाहर इंतजार करने के बाद संचालक द्वारा लोगों को किराना सामान की बिक्री करते रंगे हाथों पकड़ा गया था।

Back to top button