उत्तर प्रदेशख़बरराजनीति

मिशन 2022 पर भाजपा ने शुरू किया काम, निषाद पार्टी संग चुनावी गठबंधन का ऐलान

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने बड़ा दांव खेल दिया है। भाजपा के यूपी चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस करके ऐलान कर दिया है कि निषाद पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे। दो दिन चली लंबी बैठक के बाद यह निर्णय लिया गया है। उन्होंने ये भी कहा कि सीटों के बंटवारे पर सहमति बन गई है। निषाद पार्टी के अध्यक्ष संजय निषाद साझा प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद थे लेकिन उन्हें बोलने का मौका नहीं दिया गया।

अपना दल भी भाजपा के साथ
प्रधान ने यह भी कहा कि अपना दल भी भाजपा के साथ है। ओमप्रकाश राजभर के साथ गठबंधन के सवाल पर बोले कि सामाजिक ताने बाने का ख्याल रखते हुए गठबंधन किया जा रहा है। उन्होंने ये भी स्पष्ट कर दिया कि योगी आदित्यनाथ ही हमारा चेहरा होंगे। चुनाव मोदी और योगी के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। गठबंधन में सीटों के बंटवारे पर कहा कि सम्मानजनक समझौता हुआ है।

रात में ही बन गई थी गठबंधन की सहमति
गुरुवार की रात सीएम योगी आदित्यनाथ के आवास पर कोर कमेटी की बैठक हुई। इसमें योगी, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, दोनों उप-मुख्यमंत्री और संगठन मंत्री सुनील बंसल मौजूद थे। कहा जा रहा है कि कोर कमेटी की इस बैठक में निषाद पार्टी के साथ गठबंधन पर चर्चा हुई थी। इसी में सहमति बन गई थी।

निषाद समुदाय का पूर्वांचल के 16 जिलों में प्रभाव
भाजपा और निषाद पार्टी के एक साथ आने से पूर्वांचल में पार्टी की स्थिति मजबूत होगी। गंगा के किनारे वाले पूर्वी उत्तर प्रदेश के इलाके में निषाद समुदाय की अच्छी-खासी आबादी है। वर्ष 2016 में गठित निषाद पार्टी का खासकर निषाद, केवट, मल्लाह, बेलदार और बिंद बिरादरियों में अच्छा असर माना जाता है। गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज, जौनपुर, संत कबीरनगर, बलिया, भदोही और वाराणसी समेत 16 जिलों में निषाद समुदाय के वोट जीत-हार में बड़ी भूमिका अदा कर सकते हैं। संजय निषाद दावा करते हैं कि प्रदेश की 100 से ज्यादा विधानसभा सीटों पर निषाद वोट जिताने या हराने की ताकत रखता है।

केंद्रीय नेतृत्व को सौंपी जाएगी चुनाव मंथन की रिपोर्ट
लखनऊ में हुई बैठक की चुनाव प्रभारी और सह प्रभारियों की मंथन के बाद रिपोर्ट तैयार होगी, जिसे केंद्रीय नेतृत्व को सौंपा जाएगा। पार्टी के सभी चुनाव सह-प्रभारियों ने चुनावी तैयारियों को लेकर अपने-अपने क्षेत्र की रिपोर्ट चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान को सौंपेंगे। धर्मेंद्र प्रधान यह रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को देंगे। इसी रिपोर्ट के आधार पर आगे की चुनावी रणनीति तैयारी की जाएगी।

भाजपा का चुनावी रोड मैप तैयार
आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा के चुनाव प्रभारियों ने रोड मैप तैयार किया है। सभी 6 सह-प्रभारी विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेंगे। पार्टी के पदाधिकारियों के साथ ही जिला समन्वय समिति, जिला चुनाव संचालन के साथ बैठक करेंगे। उसी विधानसभा में प्रवास करेंगे।

सरकार की तरफ से नामित आयोग, निगम और बोर्ड के सदस्यों और अध्यक्ष के साथ भी बैठक करेंगे। उन्हें चुनाव से जुड़ी जिम्मेदारी भी सौंपेंगे। 26 सितंबर से 2 अक्टूबर तक चलने वाले महा जनसंपर्क अभियान को सफल बनाने की रणनीति भी बनाई है।

Back to top button