धर्म

महिलाओं में जब आएंगे ये बदलाव तब होगा कलयुग का अंत, जानिए क्या ?

दुनिया के अंत होने की खबरें आपने बहुत बार न्यूज चैनल्स या अखबारों में सुनी होंगी लेकिन आज तक दुनिया वहीं की वहीं है. इस बारे में हर धार्मिक ग्रंथों में लिखा है कि एक दिन सर्वनाश तो होगा ही लेकिन इसके कारण सबमें अलग-अलग बताए गए हैं. हिंदूधर्म के पवित्र ग्रंथ गीता में संसार और व्यक्ति से जुड़ी बहुत सी बातें लिखी हैं जिन्हें भगवान विष्णु ने बताया था. भगवान विष्णु संसार चलाने वाले इस दुनिया के रक्षक हैं. जिसे चलाने की जिम्मेदारी भगवान शंकर ने उन्हें दी थी. ऐसा इसलिए शिवजी ने किया था क्योंकि विष्णुजी के पास सुंदरता भी है और तीव्र बुद्धि भी है. विष्णु जी ने गीता के कुछ हिस्से में बताया था कि कलयुग की शरुआत कैसे होगी और कैसे होगा दुनिया का अंत ? महिलाओं में आएंगे जब ये बदलाव तब होगा कलियुग का अंत, ऐसा माना जाता है कि इस दुनिया का अंत एक महिला के कारण ही होगा लेकिन इस बात में कितनी सच्चाई है इसे जानने के लिए आपको गीता पढ़नी पड़ेगी.

महिलाओं में आएंगे जब ये बदलाव तब होगा कलियुग का अंत

1. भगवान विष्णु ने कहा कि कलियुग की शुरुवात सबसे पहले स्त्री के बालों से होगी. जिन बालों को स्त्री का श्रृंगार कहा जाता है, कलियुग में सभी महिलाएं अपने बाल काटना शुरु कर देंगी.

2. विष्णुजी ने बताया था कि जब लोग अपने बालों को रंगना शुरु कर देंगे, फिर वो महिला हो या पुरुष. सभी अपने प्राकृतिक रंग को रंगना शुरु करेंगे, कलयुग में कोई भी बाल काले और लंबे नहीं दिखाई देंगे.

3. जिस दिन एक बेटे ने अपने पिता के ऊपर हाथ उठा दिया तभी से समझ लेना कि कलयुग अपने चरम सीमा पर है. हर घर में कलह कलेश होगा कोई आपस में मिलकर नहीं रहेगें और लोग अपने ही घर में अपनों को मारेंगे.

4. कलयुग में कोई भी एक दूसरे से सच नहीं बोलेगा, ना पति पत्नी से ना बच्चे अपने माता-पिता से. हर तरफ सिर्फ झूठ का ही बोलबाला रहेगा और सच की आंखों पर पट्टी बंध जाएगी.

5. कलियुग में लडकिया बिलकुल भी असुरक्षित रहेंगी, उनका अपने घर में शोषण किया जाएगा. अपने ही घर के लोग उनके साथ वैभिचार करंगे और बाप बेटी भाई बहन कोई रिश्ते सही से नहीं रहेंगे.

6. कलयुग में शादी सिर्फ एक समझौता बनकर रह जायेगी. पत्नी-पति की इज़्ज़त करेगी और ना पति-पत्नी की इज्जत करेगा, शादी जैसे पवित्र बंधन भी अपवित्र हो जाएंगे. किसी की भी शादीशुदा जोड़े की जिंदगी ठीक से नहीं चल पाएगी.

7. जिस तरह सतियुग में लोगों की उम्र लंबी होने के बाद मृत्य़ु हो जाती थी, अब घोर कलयुग में ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलेगा. कलयुग में जब किसी की मृत्यु होगी तब उसकी उम्र 20 से 30 साल के अंदर होगी और उसकी मृत्यु अकाल या पीड़दायक होकर होगी.

8. कलियुग में बेईमानी का बोलबाला होगा, लोग एक-दूसरे को ठगकर पैसा कामाएंगे. पैसों के लिए इंसान इंसान का बेदर्दी के साथ खून करेगा, दूसरों का हक छीनेगा. तब घोर कलयुग आ जाएगा.

9. कलियुग मैं न कोई कानून होगा ना वयवस्था कोई किसी से नहीं डरेगा सब अपने मन की करेंगे न हर कोई इंसान पैसो के लिए कुछ कर जायेगा

10. देश में चारो ओर अकाल और भुखमरी फैलने लगेगी, लोग प्यास और भूख से मरने लगेंगे और जब ऐसा होग तब कलयुग अपने चरम सीमा तक पहुंच जाएगी.

11. विष्णु जी ने बताया कि जब 7 साल की लड़की बच्चे को जन्म देगी तो समझ जाना कि अब घोर कलयुग आ गया है. इसके कुछ समय बाद ही इस युग का अंत हो सकता है.

12.  विष्णुजी के अनुसार,  वे, शिव और ब्रह्मा एक हो जाएंगे और फिर वे तीनों मिलकर इस युग का अंत कर देंगे क्योंकि उन्होंने ही इस सृष्टि को बनाया है और उन्हें ही इसे बिगाड़ना है.

13. विष्णु जी ने बताया था जब वे तीनो (ब्रह्मा, विष्णु और महेश) पर हर कोई हावी हो जाएगा,  तब इस युग का अंत कर दिया जाएगा. जिसमें सबसे पहले प्रलय पानी से शुरु होगा, फिर अग्नि से उसके बाद वायु से और फिर अंत में पृथ्वी की तरफ होते हुए इस युग का अंत हो जाएगा. इसके बाद एक नये युग की शुरुआत होगी जहां फिर से सत्य ही होगा.

Back to top button