धर्म

महादेव को तुरंत प्रसन्न करने का सबसे आसान उपाय, एक बार जरूर आजमाएं

हिंदू धर्म में शिव सबसे महत्वपूर्ण देवताओं में से एक माना जाता है इतना ही नहीं ये त्रिदेवों में एक देव हैं। हिन्दू धर्म के प्रमुख देवताओं में से हैं। वेद में इनका नाम रुद्र है। यह व्यक्ति की चेतना के अन्तर्यामी हैं। इनकी अर्धांगिनी का नाम पार्वती है। इनके पुत्र कार्तिकेय और गणेश हैं तथा पुत्री अशोक सुंदरी हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भगवान शिव के अन्‍य कई नाम भी है जैसे भोलेनाथ, शंकर, महेश, रुद्र, नीलकंठ, गंगाधार के नाम से भी जाना जाता है। वहीं इसके अलावा ये भी बता दें कि तंत्र साधना में इन्हे भैरव के नाम से भी जाना जाता है। अक्‍सर भगवान शिव के ज्‍यादातर चित्रों में योगी के रूप में देखे जाते हैं और उनकी पूजा शिवलिंग तथा मूर्ति दोनों रूपों में की जाती है। शिव के गले में नाग देवता विराजित हैं और हाथों में डमरू और त्रिशूल लिए हुए हैं।

करियर में आई बाधा को दूर करने के उपाय

करियर में सफलता और असफलता के लिए कुडंली में बुध ग्रह को जिम्मेदार माना गया है। नौकरी, बिजनेस और पढ़ाई में आने वाली बाधा को दूर करने के लिए 4  सोमवार को शिवलिंग पर दूर्वा घास चढ़ाएं। इस उपाय से करियर संबंधी बाधा दूर हो जाती है।

मानसिक परेशानी को दूर करें के उपाय

कुंडली में ग्रह दोष होने से व्यक्ति की मानसिक परेशानी बढ़ जाती है। ज्योतिष में मानसिक परेशानी का संबंध चंद्रमा से संबंधित ग्रह दोष के कारण होता है। इस परेशानी को दूर करने के लिए 4  सोमवार को शिवलिंग पर दूध अर्पित करना चाहिए।

मान–सम्मान में आई गिरावट को दूर करने के उपाय

अगर किसी की कुंडली में सूर्य ग्रह से संबंधित कोई दोष हो तो व्यक्ति के मान–सम्मान में गिरावट होने लगती है और अपयश का सामना करना पड़ता है। मान–सम्मान को बढ़ाने के लिए  शिवलिंग पर चंदन का लेप लगाएं और जल चढ़ाएं।

सेहत संबंधी परेशानियों से छुटकारा पाने के उपाय

कुंडली में राहु–केतु के अशुभ घर में बैठने पर स्वस्थ्य संबंधी परेशानियां आने लगती है। सेहत को ठीक करने के लिए भगवान शिव को धतूरा चढ़ाएं।

विवाह संबंधी दोष को दूर करने के उपाय

कुंडली में बृहस्पति ग्रह के कमजोर और दोष होने से विवाह होने में तमाम तरह की परेशानियां आने लगती है। साथ ही पति–पत्नी में मनमुटाव भी बढ़ने लगता है। कुंडली में इस दोष को दूर करने के लिए शिवलिंग पर बेलपत्र चढ़ाएं।

Back to top button