खेलजरा हट के

महंगी घड़ियों के कारण मुसीबत में फंसे हार्दिक पंड्या ने जारी किया बयान, जानें पूरा मामला

टी-20 विश्व कप अभियान समाप्त करने के बाद UAE से भारत आते ही हार्दिक पंड्या एक बड़ी मुश्किल में फंस गए हैं। दरअसल बीती रात मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पंड्या को महंगी घड़ियों के कारण कस्टम विभाग द्वारा रोका गया था।ऐसा बताया जा रहा है कि पंड्या ने घड़ियों का दाम गलत बताया और इसी कारण उन्हें रोका गया था। हालांकि, पंड्या ने अपना बयान जारी करके इन बातों को सिरे से नकार दिया है।

क्या है पूरा मामला?

बीती रात आई रिपोर्ट के मुताबिक पंड्या को एयरपोर्ट पर रोका गया था और उनके पास से पांच करोड़ रुपये की कीमत वाली एक घड़ी बरामद की गई थी। रिपोर्ट के मुताबिक पांड्या ने घड़ी की कीमत डेढ़ करोड़ रुपए बताई थी।पंड्या ने जो इनवॉइस दिया था उस पर दर्ज सीरियल नंबर घड़ी पर दर्ज सीरियल नंबर से मैच नहीं कर रहा था। कस्टम विभाग में घड़ियों को अपने पास ही रख लिया था।

स्वेच्छा से गया था कस्टम ऑफिस- पंड्या

पंड्या ने अपना बयान जारी करते हुए कहा है कि 15 नवंबर को दुबई से मुंबई आने के बाद वह स्वेच्छा से मुंबई के कस्टम ऑफिस गए थे।उन्होंने आगे कहा, “मैं खुद ही अपने द्वारा लाई हुई चीजों पर कस्टम ड्यूटी देना चाहता था और मेरे बारे में सोशल मीडिया पर तरह-तरह की अफवाहें फैलाई जा रही है। मैंने स्वेच्छा से अपने साथ लाई हुई चीजों को कस्टम के सामने घोषित किया था।”

डेढ़ करोड़ रुपये ही है घड़ियों का वास्तविक दाम- हार्दिक

पंड्या ने साफ किया है कि घड़ियों का दाम डेढ़ करोड़ ही है और सोशल मीडिया पर पांच करोड़ की बात पूरी तरह से बकवास है।उन्होंने कहा, “कस्टम विभाग ने मुझसे मेरे सामान के बिल मांगे थे जो कि मैंने जमा करा दिए हैं। कस्टम फिलहाल यह आंकड़ा लगा रही है कि इन सामानों पर कुल कस्टम ड्यूटी कितनी लेनी है और मैं पहले ही इसे देने के लिए रजामंदी दे चुका हूं।”

पिछले साल क्रुणाल के साथ भी हुआ था ऐसा वाकया

पिछले साल UAE में ही IPL खेलने के बाद वापस लौटते समय हार्दिक के बड़े भाई क्रुणाल पांड्या के साथ भी कुछ ऐसा ही वाकया हुआ था। क्रुणाल के पास भी लगभग दो करोड़ रुपये की कीमत की घड़ियां बरामद हुई थी।इस कारण क्रुणाल और उनकी पत्नी से लगभग 3 घंटे तक पूछताछ की गई थी और उनकी घड़ियों को जप्त कर लिया गया था। बाद में जुर्माना देने पर घड़ियां वापस की गई थी

Back to top button