उत्तर प्रदेशख़बर

मस्जिद के माइक से पुलिसवाले का एलान- ‘खतरे में है इस्लाम’

ये हैरान करने वाला मामला यूपी के मेरठ जिले का है. यहां के सरधना कस्बे में यूपी पुलिस का एक रिटायर्ड कांस्टेबल मस्जिद पहुंचता है और वहां के माइक से ऐसा ऐलान किया कि मस्जिद में भीड़ जुटनी शुरू हो गई. खास बात ये है कि अगर पुलिस समय से मौके पर नहीं पहुंचती तो स्थिति बेकाबू हो जाती.

दरअसल एक मस्जिद के बाहर बनी दुकान पर कब्जे को लेकर दो संप्रदायों के बीच भिड़ंत हो गई. इसी बीच रिटायर कांस्टेबल जो मस्जिद कमेटी का पदाधिकारी भी है,  मस्जिद के माइक से ऐलान करता है कि ‘मुस्लिम भाई तुरंत मस्जिद पर पहुंचे, इस्लाम खतरे में है.’

पूरा मामला पुलिस ने बताया है. पुलिस के मुताबिक जुल्हैड़ा रोड स्थित मस्जिद के बाहर बनी दुकानों में से एक इरफान की है. इरफान का आरोप है कि तीन दिन पूर्व मस्जिद कमेटी के पदाधिकारी सुलेमान ने दबंगई दिखाते हुए उसकी दुकान की दीवार गिराते हुए कब्जे का प्रयास किया. पुलिस ने मामले को सुलटवा दिया था.

इसके बाद इरफान अपनी दुकान की दीवार की मरम्मत करवा रहा था. इसी बीच सुलेमान ने विरोध शुरू कर दिया और दोनों पक्ष आपस में भिड़ बैठे. आरोप है कि सुलेमान जो कि पुलिस से रिटायर्ड कांस्टेबल है, उसने मस्जिद के माइक से ऐलान कर दिया कि ‘मुस्लिम भाई अधिक से अधिक संख्या में तुरंत मस्जिद पर पहुंचें, इस्लाम खतरे में है.

ये ऐलान सुनते ही बाजार में हड़कंप मच गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपियों पर लाठियां फटकारते हुए रिटायर कांस्टेबल सहित तीन आरोपियों को हिरासत में ले लिया. बताया जा रहा है कि ये एलान करने वाला रिटायर्ड कांस्टेबल विक्षिप्त किस्म का है.

 

 

Back to top button