ख़बरराजनीति

ममता बनर्जी के भतीजेश्री कोयला घोटाले मामले में फंस गये है, इनका बचना मुश्किल है !

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर ममता बनर्जी के लिए एक ओर से नहीं बल्कि चौतरफ़ा मुसीबतें आ रही है। बीजेपी का बढ़ता जनाधार तो TMC की तकलीफ़ है ही, वहीं ममता के लिए सबसे बड़ी मुसीबत उनके अपने आतंरिक मसलें हैं, जिनमें भतीजे अभिषेक बनर्जी का नाम सबसे ऊपर आता है। अभिषेक के कारण वंशवाद के आरोप झेल रहीं ममता के लिए दूसरा बड़ा झटका ये है कि अभिषेक की पत्नी रुजीरा बनर्जी का 2020 के कोयला घोटाले से जुड़े एक मामले में फंस गई हैं और सीबीआई अभिषेक सहित उनके परिवार को अपने रडार में ले चुकी है।

अभिषेक बनर्जी के कारण पहले ही टीएमसी के अनेकों दिग्गज नेता पार्टी छोड़कर बीजेपी का दामन थाम चुके हैं। इन परिस्थितियों के कारण टीएमसी की ताकत अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले ही आधी हो चुकी है। ऐसे में अभिषेक बनर्जी अब भ्रष्टाचार के मुद्दों के कारण भी ममता के लिए मुसीबत बन गए हैं। सीबीआई ने कोयला घोटाले के मामले में उनकी पत्नी रुजीरा के खिलाफ नोटिस जारी कर दिया है।

टीएमसी इस मामले में बीजेपी पर आरोप लगा रही है,कि बीजेपी के इशारे पर सीबीआई काम कर रही है, लेकिन हकीकत ये है कि ये मामला आज का नहीं मई 2020 का है। दरअलस, झारखंड के धनबाद, पश्चिम बंगाल और आसनसोल, पुरुलिया बांकुरा रेंज में कोयले की काफी ज्‍यादा खदानें है। यहां पर कई खदानें काफी समय से बंद पड़ी हैं। इसके साथ ही यहां पर ईस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड की भी काफी खदानें मौजूद हैं। इन बंद पड़ी खदानों से अवैध रूप से अरबों रुपयों के कोयले का व्‍यापार किया जाता है। इस मामले में सीबीआई ने मई 2020 में केस दर्ज किया था।

सीबीआई ने दर्ज किए अपने केस के अनुसार ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू की हैं। इस मामले में जब पूछताछ हुई तो, टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी के करीबी विनय मिश्रा का नाम भी सामने आया। विनय मिश्रा ने कोल स्‍कैम को लेकर विनय मिश्रा को चार बार तलब किया लेकिन वह फरार हो गया उसे तो पुलिस ढूंढ रही है लेकिन गवाहों ने रुजीरा बनर्जी  (अभिषेक बनर्जी की पत्नी) का भी नाम लिया है। सीबीआई को जांच के दौरान पता चला है कि रुजिरा की फर्म लीप्स एंड बाउंड्स मैनेजमेंट सर्विस के अकाउंट में कुछ ऐसे लेनदेन हुए हैं, जिनका संबंध सीधे तौर पर कोल स्‍कैम से जुड़ा हुआ है।

इन सभी परिस्थितियों के चलते ही सीबीआई ने रुजिरा को नोटिस भेजा है, और अब उनके खिलाफ सख्त जांच शुरू हो गई है। अभिषेक बनर्जी लगातार बीजेपी नेता और देश के गृहमंत्री अमित शाह पर आरोप लगाते रहें हैं, लेकिन अब वो खुद भ्रष्टाचार के मामलों में सीबीआई की रडार पर आ गए हैं। अब सीबीआई जब अभिषेक के खिलाफ कार्रवाई कर रही है तो मुसीबतें ममता की बढ़ रही है।

विधानसभा चुनाव के चलते पहले ही ममता को अपने बागी नेताओं के मुद्दे पर मुसीबतें हो रही हैं। वहीं अब सीबीआई का इस मामले में अभिषेक बनर्जी को घेरना ममता के लिए एक नई मुसीबतों का सबब होगा, और ये जनता के बीच उनकी छवि को बहुत अधिक नुकसान पहुंचा सकते हैं और गृहमंत्री अमित शाह उन्हें रिलीफ देने के मूड में नहीं हैं।

Back to top button