देश

ममता की ई-बाइक रैली: तेल की कीमतों के खिलाफ उतरीं सड़क पर, ऐसे जताया विरोध

पश्चिम बंगाल में TMC बनाम BJP की सियासी जंग तेज हो गई है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को बढ़ती महंगाई को लेकर अनोखे अंदाज में विरोध किया। गले में महंगाई का पोस्टर लगाकर मुख्यमंत्री ई-स्कूटी से राज्य सचिवालय तक पहुंचीं। उन्होंने पेट्रोल-डीजल और गैस की कीमतें बढ़ने के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया। ममता के इस ई-बाइक रैली में बड़ी संख्या में सचिवालय के कर्मचारी भी मौजूद रहे।

ममता ने इस दौरान केंद्र सरकार पर निशाना साधा। कहा, ‘BJP ने नोटबंदी कराई, तेल की कीमतें बढ़ा दीं। मोदी सरकार ने सब कुछ बेच दिया। BSNL से लेकर कोयला तक सब कुछ बिक गया। ये सरकार आम जनता, युवाओं और किसानों की एंटी है। इसे बंगाल से तो दूर रखना ही है, केंद्र से भी हटाना होगा।’

एक दिन पहले ही मोदी को बताया था दंगाबाज
बुधवार को ही ममता बनर्जी ने हुगली में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित बयान दिया था। उन्होंने मोदी को देश का सबसे बड़ा दंगाबाज कह दिया। ममता ने कहा कि जैसा अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ हुआ, मोदी के साथ उससे भी बुरा होगा। हिंसा से कुछ हासिल नहीं हो सकता।

ममता ने कहा कि बंगाल पर बंगाल का शासन होगा। गुजरात का बंगाल पर शासन नहीं होगा। मोदी बंगाल पर राज नहीं करेंगे। गुंडे बंगाल पर शासन नहीं करेंगे। ममता ने अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी की पत्नी से CBI की पूछताछ पर कहा कि यह बंगाल की महिलाओं का अपमान है।

नड्‌डा ने कहा- ममता ने बंगाल में केवल हिंसा को बढ़ाया
BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेनी नड्‌डा भी बंगाल के दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। कहा, ‘ममता ने बंगाल में केवल हिंसा को बढ़ाया है। केंद्र सरकार की योजनाओं को यहां लागू नहीं होने देती हैं। भ्रष्टाचार में लिप्त हैं।’

Back to top button