सेहत

भिगोकर खाएं सूखा हुआ ‘अंगूर’..होते हैं ये 3 जबरदस्‍त फायदे

आजकल की लाइफ स्‍टाइल में लोग काफी बीजी हो जाते हैं जिसकी वजह से वो अपने शरीर पर ध्‍यान नहीं दे पाते है। वहीं आपको ये भी बता दें कि हम ऐसी कई चीजों को अनदेखा कर देते हैं लेकिन अगर उसे अपनी दिनचर्या में शामिल कर लें तो वाकई में काफी फायदा होगा। दरअसल हम बात कर रहे हैं किशमिश की वैसे तो किशमिश अपने कई लाभकारी गुणों के लिए जानी जाती है। किशमिश सूखे अंगूर से प्राप्त होती है या अंगूरों को सूरज के धूप में सुखाकर, जब तक कि अंगूर का रंग सुनहरा, हरा या काला नहीं हो जाता है।

यह टेस्टी ड्राई फ्रूट हर किसी का पसंदीदा होता है, खासकर बच्चों का। यह व्यापक रूप से दुनिया भर में खाना पकाने में उपयोग किया जाता है। जी हां आपको बता दें कि किशमिश देखने में तो बहुत छोटी सी चीज है लेकिन वहीं आपको ये भी बता दें कि ये कई गुणों से भरपूर है। जी हां खास बात तो ये हे कि अक्‍सर महिलाएं इसे खाने से बचती हैं, क्‍योंकि उन्‍हें लगता है कि इसकी तासीर गर्म होती है।

अगर आप भी गर्म तासीर के कारण किशमिश नहीं खाती हैं तो इसके अलावा आप चाहे तो किशमिश को भींगाकर खा सकते हैं क्‍योंकि इसे पानी में भिगोकर खाने से इसकी तासीर बदल जाती है और यह आपको भरपूर फायदा देती है। इसके साथ ही आपको ये भी भीगी किशमिश में आयरन, पोटैशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम की भरपूर मात्रा होती है। इसके अलावा ये फाइबर का भी अच्छा सोर्स है।

सभी ड्राई फ्रूट्स की तरह किशमिश, स्वस्थ तरीके से वजन बढ़ाने के लिए आहार है क्योंकि ये फ्रुक्टोस और ग्लूकोज से भरे हुए होते हैं और इसमें बहुत अधिक मात्रा में ऊर्जा भी पाई जाती है। ये खिलाड़ियों या बॉडी बिल्डर्स के लिए एक बहुत ही आदर्श आहार है, जिन्हें अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। किशमिश खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को जमा किए बिना वजन बढ़ाने में आपकी सहायता करती है। यही कारण है कि डॉक्‍टरों का भी मानना होता है कि हर व्‍यक्ति को रोजाना 10-15 किशमिश को रात को पानी में भिगोकर रख दें और सुबह खाली पेट इसे खाएं और 30 मिनट तक किसी और चीज का सेवन ना करें अच्छे फायदे पाने के लिए कम से कम रेगुलर 1 महीने तक इसे जरूर खाएं।

आयरन से भरपूर

वहीं अगर देखा जाए तो महिलाओं के शरीर में हीमोग्‍लोबिन की मात्रा कम होती है। जिसकी वजह से एनीमिया की समस्या बनी रहती है और ब्‍लड का लेवल गिरने लगता है। बॉडी को सही तरीके से चलाने के लिए ब्‍लड का अहम रोल है। इसकी कमी होने पर थकावट रहना, सांस लेने में तकलीफ, मसल्‍स पेन, चेहरे की रंगत फिकी पड़ना, नाखूनों का टूटना, दर्दनाक पीरियड्स, सिर दर्द रहना, बाल झड़ना जैसे लक्षण दिखाई देने लगते हैं।

वहीं शायद आपको ये नहीं पता होगा कि किशमिश मुंह से आती बदबू के कारण कई बार महिलाओं को शर्मिंदा होना पड़ता है। वहीं आपको बता दें कि अगर किसी भी व्‍यक्ति के मुंह से बदबू आती है अक्‍सर लोग उनसे दूर भागते है और उनका मजाक बनाते हैं और उनके साथ रहना पसंद नहीं करते। यूं तो सांसों के बदबू को रोकने के लिए बाजार में कई तरह की चीजें मिलती है लेकिन इसके प्रयोग से कुछ देर तो मुंह से बदबू आना रूक जाता है लेकिन कुछ समय बाद समस्‍या फिर से होने लगती है।

Back to top button