देश

भारत ने पाक से की अपील, कहा- हमारे राजनयिकों को कुलभूषण जाधव से मिलने दो

पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले में भारत का विदेश मंत्रालय लगातार एक्टिव है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को जानकारी दी कि उनकी सरकार ने दो दिन पहले ही इस मामले में राजनयिक एक्सेस की मांग की है. आपको बता दें कि कुलभूषण जाधव पर अगले साल अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में सुनवाई होगी.

विदेश मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान ने जाधव को सजा-ए-मौत दी थी, लेकिन हम इस मामले को अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ले गए और इस फैसले पर रोक लगवाई. इंदौर में प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि हमने उनकी फांसी पर रोक लगवा दी है, इस मामले की सुनवाई अब अगले साल फरवरी में होनी है.

आपको बता दें कि कुलभूषण जाधव पर भारत अगले साल 18 फरवरी को पाकिस्तान के झूठ से पर्दा उठाएगा. इंटरनेशनल कोर्ट (ICJ) में अगले वर्ष 18 से 21 फरवरी तक कुलभूषण जाधव पर सुनवाई होगी. यह सुनवाई दो राउंड में होगी. पहले भारत को इसमें अपना पक्ष रखने का मौका दिया जाएगा, उसके बाद पाकिस्तान अपनी बात रखेगा.

गौरतलब है कि 47 वर्षीय जाधव को पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जासूसी के आरोप में अप्रैल 2017 में मौत की सजा सुनाई थी. भारत ने उसी वर्ष मई में उस फैसले के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय अदालत का दरवाजा खटखटाया था. अंतरराष्ट्रीय अदालत ने भारत की अपील पर जाधव की फांसी पर रोक लगा दी.

Back to top button