देश

बिहार : कोरोना से 4 दिनों में पति-पत्नी की मौत, नहीं मिली कबीर अंत्येष्टि की राशि

बिहार के अररिया जिले में कोरोना का कहर लगातार जारी है। 5 दिन पहले रानीगंज के मधुलत्ता गांव में कोविड संक्रमण के शिकार एक पति-पत्नी की मौत की घटना से लोग उबरे भी नहीं थे कि भरगामा के हरिपुर कला में 4 दिन के अंतराल में एक पति-पत्नी की मौत हो गयी। दोनों कोरोना संक्रमित थे। मजदूर वर्ग के एक परिवार में कोविड की वजह से हुई मौत के बाद अंतिम संस्कार के लिए मिलने वाली कबीर अंत्येष्टि योजना की राशि तक नहीं दी गई।

मुखिया बोले-इस मद में राशि ही नहीं
स्थानीय मुखिया का कहना है कि इस मद में राशि उपलब्धता ही नहीं है, लेकिन प्रावधान है कि कबीर अंत्येष्टि के तहत फौरन 3000 रुपए उपलब्ध कराए जाए। एक परिवार में चार दिन में दो मौतों की घटना के बाद हरिपुर कला में भय का माहौल व्याप्त हो गया है। हरिपुर कला पंचायत के वार्ड संख्या 10 में मजदूर वर्ग के एक परिवार में 2 मौत होने के बाद स्वास्थ्य विभाग में भी भूचाल आ गया है।

स्वास्थ्य विभाग ने गांव में भेजी टीम
एक साथ 4 दिन के अंतराल में 2 मौतें होने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने जांच टीम भेजकर गांव के 43 लोगों का सैंपल कलेक्ट किया है। देर शाम स्वास्थ्य विभाग ने रिपोर्ट जारी की, जिसमें मृतक पति-पत्नी के पुत्र सहित गांव के 4 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं बुधवार को ही फारबिसगंज के बथनाहा में सांस की समस्या से एक युवक रंजन मल्लिक की भी मौत हो गयी। जिले में कोरोना संक्रमण का केस लगातार बढ़ता जा रहा है। पिछले 24 घंटे के दौरान 244 पॉजिटिव केस सामने आए हैं, जो अररिया जिला वासियों के लिए चिंता का विषय है।

8 मई को पति की हुई थी जांच,9 को हो गयी मौत
भरगामा प्रखंड अंतर्गत हरिपुर कला पंचायत के वार्ड संख्या 10 के 55 वर्षीय सनंदी पासवान को सांस लेने में तकलीफ होने के बाद परिजनों ने 8 मई को पूर्णिया के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। उसी दिन कोविड का टेस्ट हुआ। कोविड टेस्ट में उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई, लेकिन सांस लेने में उनकी समस्या बढ़ती जा रही थी, इसी कारण 9 मई को इलाज के दौरान पूर्णिया में सनंदी पासवान की मौत हो गई। उसके बाद उनके शव को परिजनों ने अंतिम संस्कार कर दिया।

पति की मौत के बाद 24 घंटे में पत्नी चल बसी
अपने पति सनंदी पासवान की मौत की खबर सुनने के बाद पत्नी उर्मिला देवी की तबीयत बिगड़ गई। 50 वर्षीया उर्मिला देवी को 11 मई को पूर्णिया के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें भी सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। उनकी जांच पूर्णिया में ही हुई थी तो पॉजिटिव आयी थीं। मंगलवार को तबीयत बिगड़ने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान ही बुधवार की सुबह उर्मिला देवी की भी मौत हो गई।

जिले में आंकड़ा 11 हजार पार
कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का सबसे अधिक पॉजिटिव केस बुधवार को अररिया जिले में सामने आया है। बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार 243 पॉजिटिव केस पाए गए हैं। इसी के साथ जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 11 हजार 300 से अधिक हो गयी है। सिर्फ मई महीने में अबतक 2147 केस मिले हैं।

Back to top button