क्राइम

बाजार में आ गए नकली ऑक्सीमीटर, कागज तक का बता रहे ऑक्सीजन लेवल!

नरसिंहपुर. कोरोना काल में लोगों ने बड़ी संख्या में ऑक्सीमीटर खरीद कर रखे हैं। ऑक्सीमीटर के बारे में जानकारी न होने से लोगोंं ने दवा दुकानों से या सर्जिकल इक्युपमेंट बेचने वालों से ऑक्सीमीटर खरीदे हैं। लेकिन कोरोना महामारी के बीच नकली रेमडिसीवर के बाद अब नकली ऑक्सीमीटर के मामले भी सामने आने लगे हैं। ये ऑक्सीमीटर कागज का ऑक्सीजन लेवल 77 बता रहे हैं।

कोरोना काल में ऑक्सीमीटर की कमी होने की वजह से दुकानदार ने जो ऑक्सीमीटर थमा दिया वही मजबूरी में लेकर घर चले आए। न तो इनकी कोई प्रमाणिकता है और न ही कोई गारंटी है। लोगों ने इस कोरोना काल में मजबूरी में जो ऑक्सीमीटर खरीदे हैं उनमें से कई ऑक्सीजन की गलत रिपोर्ट दे रहे हैं।

शहर के चिकित्सक डॉ.अनंत दुबे ने एक नकली ऑक्सीमीटर की फोटो फेसबुक पर शेयर की है जिसमें उन्होंने बताया है कि यह ऑक्सीमीटर कागज का ऑक्सीजन लेवल 77  बता रहा है । उन्होंने दो ऑक्सीमीटर कागज में लगाए जो कागज का ऑक्सीजन लेवल बता रहे थे।

डॉ.अनंत दुबे का कहना है कि ऑक्सीमीटर भी डब्ल्यूएचओ से एप्रूव्ड होने चाहिए। सूत्रों की मानें तो बाजार में न केवल नकली ऑक्सीमीटर बल्कि बुखार नापने वाले थर्मामीटर भी बेचे जा रहे हैं।

Back to top button