उत्तर प्रदेशक्राइम

बहराइच में 4 हत्याओं का चौंकाने वाला खुलासा : आरोपी ने मुंबई की महिला को प्रेम जाल में फंसाया, संपत्ति बिकवाई; फिर ..

बहराइच में दिल दहलाने वाली 4 हत्याओं का चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस के मुताबिक आरोपी ने मुंबई की महिला को प्रेम जाल फंसाया और उसकी संपत्ति बिकवा दी। इसके बाद महिला उससे शादी की जिद करने लगी। इससे परेशान होकर आरोपी महिला को घुमाने के बहाने बहराइच लेकर आ गया। इसके बाद दोस्तों के साथ मिलकर तीनों बच्चों और महिला को गला काटकर मार डाला। पकड़ा न जाए इसलिए उसने शव अलग-अलग फेंक दिए। पुलिस ने तीनों हत्या के आरोपियों को मुंबई से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

दरअसल, फखरपुर का रहने वाला ननकू मुंबई में डोसे की दुकान पर काम करता था, जहां ्उसकी मुलाकात मैरी से हुई। मैरी के तीन बच्चे थे और वह अपने पति से अलग मायके में रह रही थी। ननकू ने मैरी को प्रेम जाल में फंसाकर उसके साथ संबंध बना लिए।

आरोपी ने बहला-फुसलाकर और शादी का वादा करके 4 लाख में मकान बिकवा दिया। उसके रुपए भी रख लिए। मैरी ननकू से शादी की जिद करने लगी। मैरी के बार-बार शादी का दबाव डालने से ननकू परेशान हो गया, क्योंकि वह पहले से ही शादीशुदा था।

हत्या कर लौट गया मुंबई

तंग आकर उसने अपने दोस्त सलमान खान व दानिश खान के साथ मैरी और उसके बच्चों को मारने का प्लान बनाया। वह 9 सितंबर को मैरी और उसके बच्चों को घुमाने के बहाने ट्रेन से बहराइच लेकर आया। 10 को बहराइच पहुंचा और करीब 2 बजे उसने चाकू से गला काटकर चारों की हत्या कर दी। इसके बाद उनके शव ग्राम बसंता और ग्राम यादवपुरी नाला पुलिया के किनारे बहद ग्राम माधवपुर में फेंक दिया। हत्या करने के बाद ननकू लखनऊ पहुंचा और वहीं पर कमरा लेकर रुका। 11 को वह बस से मुंबई लौट गया।

हत्याकांड में शामिल मुख्य आरोपी ननकू, सलमान व दानिश को हत्याकांड में प्रयुक्त धारदार हथियार के साथ गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया गया है। आईजी डॉ. राकेश सिंह के कुशल निर्देशन में अज्ञात हत्याकांड का सफल अनावरण किया गया। इस हत्याकांड का खुलासा पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती थी, क्योंकि मृतकों की पहचान नहीं हो पा रही थी। पुलिस द्वारा तकनीकी सहायता एवं लोकल इंटेलिजेंस के माध्यम से इस जघन्यतम हत्याकांड का खुलासा मात्र 07 दिन में करने में सफलता प्राप्त की है। खुलासा करने वाली पुलिस टीम को प्रदेश सरकार की और से एक लाख, पुलिस महानिरीक्षक देवीपाटन ने पचास हजार और पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह ने 25 हजार रुपए पुरस्कार देने की घोषणा की है।
Back to top button