ख़बरदेश

बच्चे करेंगे क्राइम तो मां-बाप को मिलेगा दंड, इस देश में आ रहा है नया क़ानून; जानें क्या होगी सजा !

CHINA: चीन में अब बच्चोंा के अपराध की सजा मां-बाप को देने की तैयारी हो रही है। चीन की संसद एक ऐसा कानून बनाने पर विचार कर रही है, जिसमें प्रावधान है कि अगर उनके युवा बच्चे ‘बहुत खराब व्यरवहार ‘ करते हैं या अपराध करते हैं तो उनके पैरंट्स को दंडि‍त किया जाएगा। परिवार शिक्षा प्रोत्सा्हन कानून के मसौदे में कहा गया है कि पैरंट्स या संरक्षक को प्रताड़‍ित किया जाएगा।

परिवार शिक्षा संवर्द्धन कानून(family education promotion bill) के मसौदे के अनुसार बहुत बुरा व्यवहार या अपराध करने वाले बच्चों के अभिभावकों को बनने वाले कानून के तहत सार्वजनिक रूप से फटकार लगाई जाएगी और उन्हें परिवार शिक्षा कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भेजा जाएगा। इस प्रोग्राम में उन्हें बच्चों की देखभाल के तरीकों के बारे में बताया जाएगा। बताया जाएगा कि वे किस तरह से अपने बिगड़े बच्चों को वे सुधार सकते हैं।

नैशनल पीपुल्सच कांग्रेस के विधायी मामलों के आयोग के प्रवक्ताव झांग तिइवेई ने कहा, ‘किसी नाबालिग बच्चे के बुरा व्यवहार करने के बहुत से कारण होते हैं। इसमें ठीक तरीके से पारिवारिक शिक्षा न मिलना या इसमें कमी बड़ा कारण है।’

इसी सप्ताह संसद की स्थायी समिति विधेयक के मसौदे की समीक्षा करेगी। उसकी स्वीकृति के बाद प्रारूप को विधेयक के रूप में संसद के समक्ष विचार के लिए रखा जाएगा। इसमें बताया जाएगा कि माता-पिता किस तरह से बच्चों के आराम, खेलने और व्यायाम के लिए समय सुनिश्चित करें।

क्यों लाया जा रहा है यह कानून?
बच्चों को बुरी आदतों से बचाने पर जोर होगा। सरकार इस साल से बच्चों को बुरी चीजों की लत से बचाव के लिए कई कदम उठा रही है। बच्चों में ऑनलाइन गेम की लत को कम करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। इसे अफीम की तरह नशा कहा गया है। शिक्षा मंत्रालय ने इंटरनेट गेमिंग के घंटे सीमित किए हैं।

यह पहली बार नहीं है जब चीन ने बचपन के विकास को नया आकार देने के लिए व्यावहारिक दृष्टिकोण अपनाया है। अगस्त में, सरकार ने घोषणा की कि 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चे सप्ताह में तीन घंटे से अधिक वीडियो गेम नहीं खेल सकते हैं, शुक्रवार, शनिवार, रविवार और सार्वजनिक छुट्टियों पर राष्ट्रीय गेमिंग घंटे को एक घंटे तक सीमित कर दिया है। 2019 में सेट किए गए पहले के प्रतिबंध के बाद इस कदम ने गेमिंग प्रतिबंधों को और भी कड़ा कर दिया, जिससे नाबालिगों को सार्वजनिक छुट्टियों पर डेढ़ घंटे और तीन घंटे के लिए गेम खेलने की अनुमति मिली।

प्राइवेट ट्यूशन पर लगाई जाएगी रोक

शिक्षा मंत्रालय ने बच्चों को स्कूल से मिलने वाले होमवर्क में भी कटौती करने का निर्देश दिया है। पढ़ाई का बोझ कम करके बच्चों को हंसता-खेलता बनाने के लिए यह उपाय किए जा रहे हैं। बच्चों को मानसिक रूप से मजबूत बनाने और बहुमुखी विकास पर जोर युवाओं को पुरुष वाले गुण विकसित करने के लिए भी कहा है।

Back to top button