/** * The template for displaying the header * */ defined( 'ABSPATH' ) || exit; // Exit if accessed directly ?> बंगाल अपनी बेटी चाहता है बुआ नहीं’…पोस्टर में कई महिला नेताओं के साथ बीजेपी का ममता पर वार – JanMan tv
ख़बरराजनीति

बंगाल अपनी बेटी चाहता है बुआ नहीं’…पोस्टर में कई महिला नेताओं के साथ बीजेपी का ममता पर वार

कोलकाता
पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव का मैदान सज गया है। तारीखों के ऐलान के साथ ही चुनावी महाभारत में पार्टियां अपने तरकश से तीर निकाल रही हैं। इस बीच पश्चिम बंगाल बीजेपी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा हमला बोला है। बंगाल बीजेपी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से एक तस्वीर शेयर की गई है, जिसमें कहा गया है कि बंगाल अपनी बेटी चाहता है बुआ नहीं। इससे पहले बीजेपी ने ममता पर कुछ इसी अंदाज में हमला बोलते हुए वीडियो शेयर किया था।

बंगाल बीजेपी की कई महिला नेताओं की तस्वीर

शुक्रवार को चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान किया। राज्य में 8 चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। टीएमसी चीफ और सीएम ममता बनर्जी ने इसको लेकर सवाल खड़े किए थे। इन सबके बीच बंगाल की जंग नए मोड़ पर पहुंच चुकी है। पश्चिम बंगाल बीजेपी ने ट्विटर पर एक तस्वीर शेयर की है। इस तस्वीर के साथ कैप्शन दिया गया है- ‘बंगाल अपनी बेटी चाहता है बुआ को नहीं।’ इस तस्वीर में पश्चिम बंगाल बीजेपी से जुड़ी कई महिला नेताओं की तस्वीर है।

देबोश्री चौधरी, लॉकेट चटर्जी समेत इनकी तस्वीर
तस्वीर में पहले नंबर पर बीजेपी सांसद देबोश्री चौधरी और दूसरे नंबर पर सांसद लॉकेट चटर्जी हैं। देबोश्री बंगाल में बीजेपी का दलित चेहरा हैं। रायगंज से सांसद देबोश्री को मोदी सरकार में महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री बनाया गया था। इसके साथ बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष अग्निमित्रा पॉल, राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली समेत कई महिला नेताओं की फोटो है। वहीं दूसरी तरफ ममता बनर्जी की तस्वीर है। उनका बैकग्राउंड ब्लैक ऐंड व्हाइट है। यानी बीजेपी उनका समय खत्म होने का इशारा कर रही है।

‘बंगाल की शुद्धि के लिए बुआ जाओ’
इससे पहले #BanglaDidirThekeMuktiChay हैशटैग के साथ पश्चिम बंगाल बीजेपी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक बांग्ला गाना शेयर किया गया है। बांग्ला हैशटैग का अर्थ है- बंगाल दीदी से छुटकारा पाना चाहता है। इस पोस्ट में बांग्ला बोल के साथ लिखा है बंगाल के लोगों का एक धीमा गाना, जिनका काम सिर्फ नारे लगाना है। इस गाने के जरिए ममता बनर्जी पर हमला बोला गया है। गाने की शुरुआत में हावड़ा ब्रिज का बैकग्राउंड है और प्रतीकात्मक रूप से खुदकुशी करते लोग दिख रहे हैं। इसके जरिए राजनीतिक हत्याओं पर टीएमसी को घेरा जा रहा है।

(नीचे देखें वीडियो)

बेटी चाहता है के जवाब में बुआ जाओ कैंपेन चलाई थी
बंगाली गाने के बोल में ममता पर तंज कसते हुए कहा जा रहा है कि बंगाल की शुद्धि के लिए पीशी जाओ (बुआ जाओ)। टीएमसी ने 20 फरवरी को बंगाल अपनी बेटी चाहता है कैंपेन लॉन्च की थी। इसका जवाब देने के लिए बीजेपी ने ‘बुआ जाओ’ का इस्तेमाल किया। इस पर टीएमसी के मुकाबले चार गुना ज्यादा ट्वीट आए। गाने के साथ इलस्ट्रेशन के बीच में टीएमसी के चुनाव चिह्न जोहरा घास फूल को एक शख्स उखाड़कर फेंक रहा है। इसके बाद बंगाल में नई सुबह की उम्मीद जताई जा रही है। इसमें ममता और अभिषेक बनर्जी की तस्वीर के साथ बंगाल वालों से धोखे का आरोप लगाया गया है।

Back to top button