ख़बरखेल

‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह पंचतत्व में विलीन, चंडीगढ़ में राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

महान स्प्रिंटर मिल्खा सिंह का शनिवार शाम को चंडीगढ़ के मटका चौक स्थित श्मशान घाट में अंतिम संस्कार किया गया। उनका 91 साल की उम्र में शुक्रवार को निधन हो गया था। उनके अंतिम संस्कार के दौरान केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू, पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर और हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह भी मौजूद रहे। इससे पहले सेक्टर-8 के गुरुद्वारा साहिब से फूलों से सजे वाहन से मिल्खा सिंह का पार्थिव शरीर श्मशान घाट तक लाया गया।

सुबह से मिल्खा सिंह के अंतिम दर्शन करने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, खेलमंत्री राणा गुरजीत सोढ़ी, स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू , वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, अकाली दल के विक्रमसिंह मजीठिया, पूर्व अकाली नेता सुखदेव सिंह ढींढसा समेत कई हस्तियां पहुंचीं।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मिल्खा सिंह के बेटे जीव मिल्खा सिंह से मुलाकात की और कहा कि उनके पिता देश की शान थे। कैप्टन ने कहा कि वे हमेशा एक जिंदादिल इंसान थे और आज की पीढ़ी के लिए प्रेरणा देने वाले थे।

पूर्व अकाली नेता सुखदेव ढींढसा ने कहा कि मिल्खा सिंह हमेशा अपनी सेहत प्रति काफी जागरूक रहते थे। उन्होंने कहा कि पिछले दो महीने पहले मिल थे तो पुराने दिनों की यादों को लेकर खूब बातें की थी।

Back to top button