उत्तर प्रदेश

फैक्ट चेक : मेरठ में बुजुर्ग ने रोका सीएम योगी का रास्ता, गली के बीच में खड़ी किये खटिया?

सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में एक खाट रास्ता रोकने के लिए सड़क के बीच में खड़ा दिख रहा है। घाट के एक तरफ सीएम योगी खाट के दूसरी तरफ खड़े एक बुजुर्ग से बात करते हुए नजर आ रहे हैं।

दावा किया जा रहा है कि जनपद मेरठ के बिजौली गांव में एक बुजुर्ग ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपनी एक गली में खाट खड़ी कर जाने से रोक दिया। मुख्यमंत्री के लाख कहने पर भी बुजुर्ग ने रास्ता नहीं खोला और योगी जी को वापस जाना पड़ा।

और सच क्या है?

  • वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हमने वीडियो से जुड़े की-वर्ड्स गूगल पर सर्च किए। सर्च रिजल्ट में हमें एबीपी गंगा की वेबसाइट पर एक खबर मिली।
  • खबर के मुताबिक, सीएम योगी ने रविवार को मेरठ जिले का दौरा कर कोविड व्यवस्थाओं की तैयारियों का जायजा लिया, योगी ने संक्रमित गांव का दौरा भी किया।
  • वेबसाइट पर मौजूद खबर में हमें ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली। जिसका दावा वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा है।
  • पड़ताल के दौरान हमने मेरठ पुलिस के SP अजय कुमार साहनी से संपर्क किया। SP ऑफिस में मौजूद एक अधिकारी ने हमें बताया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। सीएम योगी ने मेरठ में कंटेनमेंट जोन का जायजा लिया था। उस दौरान सीएम योगी कंटेनमेंट जोन के बाहर से रहवासियों से बातचीत कर वापस चले गए थे।
  • अधिकारी ने आगे बताया कि इस तरह की कोई घटना उस दौरान नहीं हुई थी। जिसका दावा वीडियो के साथ किया जा रहा है।
  • पड़ताल के दौरान हमें मेरठ पुलिस के सोशल मीडिया अकाउंट पर एक पोस्ट मिला। जिसमें वायरल वीडियो के साथ किए जा रहे दावे का खंडन करते हुए उसे गलत बताया है।

साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। मेरठ में सीएम योगी का रास्ता रोकने की ऐसी कोई घटना नहीं हुई है।

Back to top button