ख़बरगैजेट ज्ञान

फेक अकाउंट पर Facebook सख्त, डिलीट किए 10 लाख+ फॉलोअर्स वाले इतने खाते

सोशल मीडिया कंपनियां संयुक्त राज्य अमेरिका के अंदर और बाहर लोगों द्वारा अपने प्लेटफार्मों पर झूठी सूचना फैलाने के प्रयासों को रोकने के लिए संघर्ष कर रही हैं। इसी बीच दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया कंपनी Facebook ने फेक अकाउंट मामले में करीब 10 लाख अकाउंट्स को डिलीट किया है। इन अकाउंट्स को डिलीट करने की सूचना Facebook ने हाल ही में कई रिसर्चर्स, टेक कंपनियों और अमेरिका व ब्रिटेन की सरकारों से भी साझा की है।

अटलांटिक काउंसिल के डिजिटल फोरेंसिक रिसर्च लैब के मुताबिक इन अकाउंट को ईरान से ऑपरेट किया जा रहा था। बताया गया है कि इन पेजों पर रंगभेद संबंधी टिप्पणियां की जा रही थीं। इनके करीब 10 लाख फॉलोवर्स बताए गए हैं। फॉलोवर्स में बड़ी संख्या में US और ब्रिटेन के नागरिक शामिल थे।

ब्लॉग पोस्ट
अकाउंट डिलीट की जानकारी खुद Facebook ने साझा की।एक ब्लॉग पोस्ट में कंपनी ने बताया कि Facebook और Instagram से ऐसे 82 पेजों, ग्रुप्स और अकाउन्ट्स को भी हटाया गया है जिसके यूजर्स खुद के अमेरिकी या ब्रिटिश नागरिक होने का दावा कर रहे थे।

दावा
कंपनी ने कहा है कि इन पेजों पर अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के खिलाफ लेख जैसी बातें और कॉन्टेंट शेयर किए जा रहे थे। Facebook ने दावा किया है कि ये अकाउंट्स ईरान से चलाए जा रहे थे। हालांकि इन अकाउंट का संबंध ईरान की सरकार से है या नहीं, इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है।

आलोचना
सूत्रों के मुताबिक इन खातों की जानकारी Facebook, Twitter Inc. और Alphabet Inc. द्वारा अगस्त में निकाली गई थी। बता दें कि इससे पहले सोशल मीडिया कंपनियों की काफी आलोचना की गई थी। जिसमें कहा गया कि कंपनियां अपने प्लैटफॉर्म्स से गलत सूचना वाली पोस्ट्स शेयर करने वाले अकाउंट्स पर कार्रवाई नहीं कर रही हैं।

Back to top button