धर्म

फेंगशुई: आखिर अपने लिए क्यों नहीं खरीदा जाता ‘लाफिंग बुद्धा’?

फेंगशुई के अनुसार घर, दुकान या कार्यक्षेत्र पर लाफिंग बुद्धा रखना बहुत शुभ माना जाता है. यह माना जाता है लाफिंग बुद्धा गुड लक का प्रतीक है, सही जगह पर लाफिंग बुद्धा की मूर्ति  रखने से घर की नकारात्मकता ख़त्म होती है और घर में सकारात्मकता बढ़ जाती है. जिससे घर में खुशी और समृद्धि का आगमन होता है.

आपने यह भी सुना होगा की लाफिंग बुद्धा आपको अपने लिए नहीं खरीदना चाहिए.  यह तभी अपने लिए सही होता है जब कोई आपको यह भेंट में दे. लेकिन इस बात को हम सुना-अनसुना कर देते हैं और अपने लिए लाफिंग बुद्धा खरीद लेते हैं. लेकिन ये बात बहुत कम लोग जानते होंगे की लाफिंग बुद्धा अपने लिए नहीं उपहार के लिये होता है.

लाफिंग बुद्धा का सम्बन्ध चीनी वास्तु विद्या फेंगशुई से है. भारत में लाफिंग बुद्धा एक सजावट सामग्री के रूप में लिया जाता है. चीन के लोग इसकी खरीददारी को लेकर बहुत सख्त होते हैं. वे कभी-भी लाफिंग बुद्धा को अपने लिए नहीं खरीदते इसके पीछे उनकी मान्यता यह है कि किसी भी व्यक्ति को इतना स्वार्थी नहीं होना चाहिए कि वे अपने लिए धन और खुशहाली की कामना हेतु लाफिंग बुद्धा खरीदे.

जो लोग ऐसा करते हैं, जो अपने लिए ही लाफिंग बुद्धा खरीदते हैं, उन्हें कभी भी इस अलौकिक वस्तु से आशीर्वाद प्राप्त नहीं हो पाता है. यह उनके लिए मात्र सजावट की वस्तु बनकर ही रह जाता है और जिस उद्देश्य, यानि धन, खुशहाली और सकारात्मकता, की प्राप्ति हेतु इसे खरीदा जाता है वह फल नही दे पाता. इसका फल तभी प्राप्त होता है जब कोई व्यक्ति इसे बिना किसी स्वार्थ के अपने परिचित का हित सोचते हुए इसे भेंट करें.

 

Back to top button