उत्तर प्रदेश

प्रयागराज : फर्जी दरोगा समेत पांच पर रंगदारी का मुकदमा दर्ज, जाने पूरा मामला

प्रयागराज।  कसारी मसारी में रंगदारी न देने पर फायरिंग करके सनसनी फैलाने वाले फर्जी दरोगा समेत पांच के खिलाफ धूमनगंज पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपियों की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी की लेकिन कोई पकड़ा नहीं गया। शक के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के दोस्तों और रिश्तेदारों को हिरासत में लेकर पूछताछ की है। बताया जा रहा है कि मुख्य आरोपी को डेढ़ साल पहले क्राइम ब्रांच ने फर्जी दरोगा बनकर वसूली करने के आरोप में गिरफ्तार कर घूरपुर से जेल भेजा था।

कसारी मसारी निवासी मो. इस्लाम ने अपने पड़ोस में रहने वाले छोटू और करेली के जिशान, असलाम, शेरा और सलीम समेत अन्य के खिलाफ जानलेवा हमला, रंगदारी मांगना, बलवा, जान से मारने की धमकी देना आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। आरोप है कि 28 मई को आरोपियों ने उनके घर पर धावा बोला था। उस वक्त बुजुर्ग फर्नीचर कारोबारी इस्लाम घर में अकेले थे। उनका बेटा बाहर गया था। इस दौरान दबंगों ने धमकाया और कहा कि एक लाख रुपये रंगदारी नहीं दी कि बाप-बेटे की हत्या कर देंगे। दबंगई दिखाते हुए वहां पर कई राउंड फायरिंग करके सनसनी फैला दी। इस घटना से वहां हड़कंप मच गया था। शनिवार को आरोपी जिशान की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल रही जिसमें वह दरोगा की वर्दी पहने था। यह भी आरोप है कि कुछ समय पहले जिशान ने करेली में फायरिंग की थी। उस पर पुलिस पर भी गोली चलाने का आरोप है।

Back to top button