देशराजनीति

प्रदेश में अब कोई भी पिंक मतदान केंद्र नही कहलाएंगे बल्कि इस नए नाम से जाने जाएंगे

भोपाल: देश में विधानसभा चुनाव को अब ज्यादा समय नहीं बचा है। 28 नवंबर को होने वाले चुनावों को देखते हुए प्रत्याशियों ने अब प्रचार में गति पकड़ते हुए अपना कार्य शुरू कर ​दिया है। जानकारी के अनुसार बता दें कि प्रदेश में अब कोई भी पिंक मतदान केंद्र नहीं कहलाएगा। यहां बता दें कि चुनाव आयोग ने इसके इस्तेमाल पर रोक लगा दी है। वहीं इसकी जगह हर जिले में ऑल वुमन पोलिंग स्टेशन होंगे।

वहीं बताया जा रहा है कि चुनाव के दौरान पोलिंग बूथों पर सभी कर्मचारी महिलाएं होंगी। वहीं संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विकास नरवाल ने बताया कि पिंक बूथ के नाम से अब कोई मतदान केंद्र नहीं होगा। इसकी जगह ऑल वुमन पोलिंग स्टेशन कहा जाएगा

गौरतलब है कि चुनाव में सरकारी और प्राइवेट दोनों ही कर्मचारियों की ड्यूटी लगती है। जिसमें महिला और पुरूष दोनों ही संयुक्त रूप से कार्य करते हैं। बता दें कि बाकी सभी व्यवस्थाएं पहले की तरह रहेंगी। इसके अलावा प्रदेशभर में करीब दो हजार ऐसे मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जहां मतदान की गतिविधियों का संचालन महिलाओं के हाथ में रहेगा। कोशिश यह भी की जा रही है कि इन केंद्रों में सुरक्षाकर्मी भी महिलाएं ही रहें।  

Back to top button