देश

पुलवामा हमले पर बीजेपी नेता बोले- रोकना है आतंकवाद तो बंद करिए मदरसे

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले की चारों ओर निंदा हो रही है. इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए हैं और 45 से अधिक जवान घायल हुए हैं. वहीं आतंकवाद को लेकर बीजेपी नेता और सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील अश्विनी उपाध्याय का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने आतंकवाद को जड़ से मिटाने के लिए सभी मदरसों को स्कूल बनाना और देश में कॉमन सिविल कोड लागू करना जरुरी बताया है.

अश्विनी उपाध्याय ने ट्वीट कर लिखा “14 साल तक के सभी बच्चों के लिए समान शिक्षा लागू करना चाहिए और मदरसों को स्कूल घोषित करना चाहिए, सभी नागरिकों के लिए समान नागरिक संहिता और हम दो-हमारे दो लागू करना चाहिए, अल्पसंख्यक-बहुसंख्यक विभाजन बंद करना चाहिए एक निशान एक राष्ट्रगान एक विधान एक संविधान लागू करना चाहिए”

उपाध्याय यहीं नहीं रुके. उन्होंने एक और ट्वीट करके सुझाव देते हुए लिखा “अलगाववादियों चरमपंथियों आतंकवादियों घुसपैठियों और उनके मददगारों की 100% संपत्ति जब्त कर फांसी देने के लिए तुरंत कानून बनाना चाहिए, गद्दारों का नार्को पॉलीग्राफ ब्रेनमैपिंग टेस्ट करने के लिए कानून बनाना चाहिए, मुकदमों का फैसला 1साल में करने के लिए स्पेशल कोर्ट बनाना चाहिए”.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में गुरुवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने आत्‍मघाती हमले को अंजाम देते हुए विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी. इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए. इस आत्‍मघाती हमले की जिम्‍मेदारी जैश-ए-मोहम्‍मद ने ली है. इस आतंकी की पहचान पुलवामा के काकापोरा के रहने वाले आदिल अहमद के तौर पर हुई है.

Back to top button