देश

पुलवामा अटैक के 4 दिन बाद शत्रुघ्न का पहला बयान, सिद्धू को लेकर बोली बड़ी बात

पुलवामा में हुए आतंकी हमले से परेशान और विचलित बॉलीवुड एक्टर और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि जल्दबाजी में कोई फैसला ना हो, शॉटगन के मुताबिक जोश में कहीं होश ना खो बैठे, उन्होने कहा कि मैं जानता हूं, कि पुलवामा में जो भी हुआ, उसके बाद लोगों का गुस्सा उबल रहा है, ये कायरता का बेशर्मी भरा कृत्य है, इन सबसे कठोर तरीके से निपटा जाना चाहिये।

शत्रुध्न सिन्हा ने आगाह किया, कि हमारे माननीय प्रधानमंत्री ने हमसे हिंसा के इस उन्मादी कृत्य का मुंहतोड़ जवाब देने का वादा किया है, हमें गुस्से में आकर जवाब नहीं देना चाहिये, हम सभी भारतीय चोट खाये और घायल हैं, हमें कुछ करने से पहले अपने अगले कदम के बारे में गहराई से सोचना चाहिये।

पुलवामा हमले पर नवजोत सिंह सिद्धू की टिप्पणी पर प्रत्यक्ष रुप से कुछ भी बोलने से मना करते हुए शॉटगन ने कहा कि राजनेताओं को इस तरह के बयान से बचना चाहिये, किसी को भी कुछ भी कहने से पहले सोचने की जरुरत है, भारत जनता फिलहाल जो माहौल है, उसमें अमनपसंद आवाजें लोग सुनना नहीं चाह रहे हैं, इस समय देश के लोग गुस्से में हैं।

क्या हमें फिल्म इंडस्ट्री में पाकिस्तानी कलाकारों को प्रतिबंधित कर देना चाहिये, इस पर शॉटगन ने कहा कि सांस्कृतिक आदान-प्रदान और उनके साथ क्या करना चाहिये, इस बारे में अभी सोचना ठीक नहीं होगा, मैं ये कहना चाहूंगा, कि ये रफी, किशोर कुमार, लता मंगेशकर और आशा भोसले की जमीन है, हमें किसी दूसरे देश के गायकों की जरुरत क्यों पड़ती है।

मालूम हो कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये, जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमलावर ने इस हमले को अंजाम दिया, हमले के बाद से पूरा देश गुस्से में है, जगह-जगह पाक के खिलाफ प्रदर्शन और नारेबाजी हो रही है, शहीदों के परिजनों समेत पूरा देश हमले का बदला मांग रहा है।

Back to top button