क्राइम

पुजारी की धारदार हथियार से निर्मम हत्या, एसपी ने लिया घटनास्थल का जायजा

बाराबंकी।  बुधवार की सुबह थाना टिकैतनगर के एक गांव मे मंदिर के पुजारी की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गई और हत्यारे रक्त रंजित शव छोङकर फरार हो गये ।

सुबह मंदिर में दर्शन करने आये श्रद्धालुओं ने जब यह नजारा देखा तो सभी स्तब्ध रह गये । आनन फानन मे इसकी सूचना पुलिस को दी तब यह मामला उच्चाधिकारियो तक पहुच गया । पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद दलबल के साथ मौके पर पहुच कर धटना स्थल का बारीकी से  निरीक्षण किया और पुलिस को आवश्यक दिशा निर्देश दिये । उन्होने घटना के खुलासे के लिये पुलिस की तीन टीमे भी गठित की है जो हत्यारो की तलाश मे जुट गयी है घटना से इलाके मे दहशत व्याप्त है । प्राप्त विवरण के अनुसार रामसनेहीघाट थाने के एक गांव निवासी 70 वर्षीय सुरेश चंद्र चौहान बीते चार साल से टिकैतनगर थानाक्षेत्र के खमोली गांव स्थित एक हनुमान मंदिर पर रहकर   पूजा पाठ करते था । बुधवार की सुबह रक्त रंजित अवस्था मे पुजारी का शव मंदिर परिसर मे पङा तब देखा गया जब ग्रामीण पूजा करने के लिये मंदिर पहुचे तब यह बात जंगल मे आग की तरह पूरे गांव मे फैल गयी जिस पर पुजारी को देखने के लिये ग्रमीणो की भीङ इक्ट्टा हो गयी ।

इस बीच किसी ने घटना की सूचना टिकैत नगर पुलिस को दी तब पुलिस के हाथपांव फूल गये । पुलिस ने  उच्चाधिकारियों को धटनाक्रम से अवगत कराया जिस पर एसपी यमुना प्रसाद ने भी मौके पर पहुचकर घटना स्थल का जायजा लिया और लोगो से पूछताछ की तब पता चला कि पुजारी  मंगलवार को इसी क्षेत्र के एक गांव में दावत में गए थे और मंगलवार की देररात आये थे । सुबह में जब एक भक्त दर्शन करने मंदिर पंहुचा तब घटना की सभी को जानकारी हुई । इस पर एस पी ने  पुलिस को जल्द घटना के खुलासे के निर्देश दिये है उधर पुजारी की हत्या से इलाके मे दहशत का माहौल व्याप्त है । इस संबंध मे एसपी यमुना प्रसाद बताया कि पुलिस की तीन टीमे खुलासे के लिये गठित कर दी गई है शीघ्र ही खुलासा कर दिया जाएगा और जो भी दोषी होगा उसके विरुद्ध सख्त कार्यवाई की एहतियात के तौर पर मंदिर के आस-पास पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।वहीं हिन्दू युवा वाहिनी ने पुजारी की हत्या की कड़ी निंन्दा की है ।

Back to top button