उत्तर प्रदेश

पक्की खबर : फरवरी में हो सकते हैं यूपी पंचायत चुनाव, औपचारिक ऐलान का इंतजार!

नोएडा. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव अगले साल फरवरी में हो सकते है। प्रशासनिक सूत्रों से इसके संकेत मिल रहे हैं। दरअसल, अप्रैल में यूपी बोर्ड की परीक्षाएं होनी है। प्रशासनिक सूत्रों का कहना है कि शासन की मंशा है कि बोर्ड परिक्षाओं से पहले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव करा दिए जाएं। 25 दिसंबर को ग्राम प्रधानों का कार्यकाल पूरा हो रहा है। ऐसे में पंचायत चुनाव को लेकर गांवों में भी चुनावी समीकरण सधने लगे हैं।

गौतमबुद्ध नगर जिले में 88 ग्राम पंचायतों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने हैं। प्रशासनिक स्तर से चुनाव को लेकर तैयारी जोरों पर हैं। कई अभियानों ने रफ्तार पकड़ी है। पंचायतों के पुनर्गठन की अधिसूचना का गजट नोटिफिकेशन 18 दिसंबर तक हो जाएगा। प्रधानों का कार्यकाल समाप्त होने से पहले जिला प्रशासन ग्राम पंचायतों में प्रशासक नियुक्त करने की कवायद में भी जुट गया है। वास्तव में इस वर्ष मार्च महीने से कोरोना को लेकर लागू लाकडाउन से चुनाव की तैयारियां समय से शुरू नहीं हो सकी।

प्रशासन ने ग्राम पंचायतों का परिसीमन कर अनंतिम सूची का प्रकाशन कर दिया है। इस पर अब दो दिसंबर तक आपत्तियां ली जाएंगी। निर्वाचन विभाग ने पंचायत चुनाव के मद्देनजर मतदाता सूची की जांच का काम भी शुरू कर दिया है। मतदाता सूची से नाम हटाने व नए नाम जोड़ने का काम जारी है। कोरोना महामारी से गैर प्रांतों से अपने गांव लौटकर आए प्रवासियों से मतदाताओं की संख्या में 10 से 15 फीसद इजाफा होने की उम्मीद प्रशासन को है। इसे देखते हुए निर्वाचन विभाग बूथों की संख्या बढ़ाने पर भी विचार कर रहा है।

Back to top button