देश

नकली रेमडेसिविर: VHP नेता की पत्नी ने जलाया था इंजेक्शन स्टॉक का रजिस्टर, 125 टूटी हुईं शीशियां जब्त

गुजरात से जुड़े नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन के मामले में एसआईटी को बड़ा साक्ष्य हाथ लगा है। एसआईटी ने विश्व हिंदू परिषद के नेता और सिटी हॉस्पिटल के संचालक सरबजीत मोखा के गार्डन और लोहिया पुल के पास से 125 नकली इंजेक्शन की टूटी शीशियों के वायल जब्त किए हैं। वहीं मोखा की पत्नी जसमीत कौर मोखा ने इंजेक्शन स्टॉक का रजिस्टर जिस तगाड़ी में रखकर जलाया था, उसे भी टीम ने जब्त कर लिया है।

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की जांच कर रही स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने सरबजीत मोखा की पत्नी जसमीत कौर और मैनेजर सोनिया को तीन दिन की रिमांड पर लिया था। दोनों से पूछताछ में कई अहम साक्ष्य मिले थे। जसमीत से पूछताछ में पता चला कि उसने नकली इंजेक्शन को गरम पानी में उबाल दिया था। इससे उसके रैपर नष्ट हो गए। वहीं 125 शीशियों के वायल और ढक्कन लोहिया पुल और मोखा गार्डन से एसआईटी ने जब्त किए। बड़ी संख्या में शीशियां नाले में बह गईं। वहीं सोनिया से दो और एक मोखा की पत्नी जसमीत से एक माेबाइल टीम ने जब्त किए।

कोर्ट में पेश करने के बाद भेजा जेल
एसआईटी ने मोखा की पत्नी जसमीत और उसकी मैनेजर सोनिया खत्री को रिमांड समाप्त होने के बाद कोर्ट में पेश किया। जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया। एसआईटी इस मामले में अब गुजरात पुलिस की गिरफ्त में आए सपन जैन, राकेश शर्मा और सुनील मिश्रा को प्रोडक्शन वारंट पर लाने की तैयारी में जुट गई है। इसके लिए कोर्ट से प्रोडक्शन वारंट लेने की प्रक्रिया चालू कर दी गई है।

गुजरात पुलिस भी प्रोडक्शन वारंट पर देवेश को ले जाएगी
उधर, गुजरात पुलिस भी अब देवेश चौरसिया को प्रोडक्शन वारंट पर ले जाने की तैयारी में जुटी है। गुजरात पुलिस मैनेजर सोनिया खत्री को भी पूछताछ के लिए ले जाएगी। सोनिया मोखा की अहम राजदार रही है। उससे कई अहम खुलासे हो सकते हैं।

ये है मामला
गुजरात पुलिस ने एक मई को नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की फैक्टरी का भंडाफोड़ किया था। इस मामले में जबलपुर के अधारताल आशा नगर निवासी सपन जैन को गिरफ्तार कर ले गई थी। सपन ने सिटी अस्पताल के डायरेक्टर सरबजीत मोखा का नाम लिया। बताया कि उसी के दिए गए मोबाइल नंबर से उसने राकेश व सुनील मिश्रा के माध्यम से 500 इंजेक्शन खरीदे थे। 15 लाख रुपए मोखा ने सपन को दिए थे। 465 इंजेक्शन मोखा को देने के बाद 35 इंजेक्शन उसने स्वयं रख लिए थे। इस मामले में ओमती थाने में मोखा दंपती, उसके बेटे हरकरण, मैनेजर सोनिया खत्री, सपन, सुनील व राकेश मिश्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज है।

 

Back to top button