ख़बरधर्म

धनतेरस 2018 : आखिर आज क्यों खरीदे जाते हैं बर्तन ?

कार्तिक कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को भगवान धनवंतरि कलश लेकर प्रकट हुए थे इसलिए इस तिथि पर बर्तन खरीदने की परंपरा है. माना जाता है कि धनतेरस के दिन आप जितनी खरीदारी करते हैं, उसमें 13 गुना वृद्धि होती है.

क्यों खरीदते हैं धनतेरस पर चांदी

दरअसल चांदी को चंद्रमा का प्रतीक माना जाता है जो शीतलता प्रदान करता है. यह स्वास्थ्यकारक भी माना गया है जो निरोगी काया और तेज दिमाग देता है. चंद्रमा के प्रभाव से मन में संतोष के धन का वास होता है और इसे सबसे बड़ा धन कहा गया है. जिसके पास संतोष और स्वास्थ्य है, उसी को सबसे धनवान माना जाता है.

कैसे करें पूजन

सबसे पहले तेल लगाकर नहाएं और फिर लाल या गुलाबी कपड़े पहनें. पूजन में सबसे पहले गणेश-लक्ष्मी जी और कुबेर की पूजा करें.

कैसे करें दीपदान 

धनतेरस पर दीपदान का भी विशेष महत्व होता है. शाम को दीपदान जरूर करें. घर के मुख्य द्वार पर तिल के तेल का चारमुखी दीपक जलाएं. थाली में यमराज के लिए सफ़ेद बर्फी, तिल की रेवड़ी या तिल मुरमुरे के लडडू, एक केला और एक गिलास पानी रखें.

Back to top button