ख़बरधर्म

धनतेरस: क्यों की जाती है पूजा, क्या है इसका महत्व ?

धनतेरस, कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी को मनाया जाता है. माना जाता है इसी दिन समुद्र मंथन के दौरान, अमृत का कलश लेकर धन्वन्तरी प्रकट हुए थे.

स्वास्थ्य रक्षा और आरोग्य के लिए इस दिन धन्वन्तरी देव की उपासना की जाती है. इस दिन को कुबेर का दिन भी माना जाता है और धन सम्पन्नता के लिए कुबेर की पूजा की जाती है.

इस दिन लोग मूल्यवान धातुओं का और नए बर्तनों व आभूषणों का क्रय करते हैं और उन्ही बर्तनों तथा मूर्तियों आदि से दीपावली की मुख्य पूजा की जाती है.

धनतेरस के दिन क्या करें और किन खास बातों का ख्याल रखें…

सारी सफाई के कार्यक्रम धनतेरस के पूर्व निपटा लें, धनतेरस के दिन तक सफाई जारी न रखें. इस दिन केवल कुबेर की पूजा न करें, धन्वन्तरी देवता की उपासना भी जरूर करें.

अगर इस दिन धातुओं का क्रय करना है तो सोना, पीतल और चांदी खरीदनी चाहिए. दीपावली के लिए गणेश-लक्ष्मी की मूर्तियां और अन्य पूजन सामग्री भी इसी दिन क्रय करें.

धनतेरस के दिन लोहा खरीदने से बचना चाहिए.

धनतेरस के दिन क्या जरूर खरीदें…

1. धातु का बर्तन खरीदना सबसे शुभकारी होता है. अगर पानी का बर्तन हो तो ज्यादा अच्छा होगा.

2. गणेश लक्ष्मी की मूर्तियां, दोनों अलग-अलग होनी चाहिए.

3. खील बताशे और मिट्टी के दीपक, एक बड़ा दीपक भी जरूर खरीदें.

4. चाहें तो लक्ष्मी और श्री यन्त्र भी खरीद सकते हैं. इसकी पूजा धनतेरस के दिन कर सकते हैं

Back to top button