देश

देवर बीमार था तो श्रीनिवास से हाथजोड़ मदद मांगीं आजतक की पत्रकार, अब बोलीं- क्यों नहीं हो जांच?

अनिल डडवाल-

जब देवरजी बीमार थे तो भाभीजी ने हाथ जोड़कर श्रीनिवास से मदद माँगी और भाभी होने का फ़र्ज़ अदा किया। मदद मिली तो धन्यवाद भी दिया।

अब पूछ रही है टीवी पर कि श्रीनिवास की जाँच क्यों नहीं होनी चाहिये?

अब मालिक ने खिलाई बिस्किट पेडिग्री याद आ गई और उसका फ़र्ज़ अदा किया।

इसीलिए सांप, संघी और मुसन्घि पर कभी भरोसा मत करो। मौका मिलते ही डंसेंगे ज़रुर।

अशोक कुमार पांडेय-

ये आजतक की पत्रकार हैं। जब देवर बीमार था तो हाथ जोड़कर श्रीनिवास से मदद माँगी। श्रीनिवास ने की तो आभार भी किया।

आज पूछ रही थीं टीवी पर कि श्रीनिवास की जाँच क्यों नहीं होनी चाहिए।

बिके जमीर वालों की पहली पहचान है – एहसानफ़रामोशी

नोट- ये दोनों टिप्पणियां इन लेखकों के सोशल मीडिया पेज से ली गईं हैं. ये इनके निजी विचार हैं 

Back to top button