देश

तिहाड़ जेल से जमानत और पैरोल पर छोड़े गए 3400 से ज्यादा कैदी लापता, मचा हडकंप

नई दिल्ली। दिल्ली की तिहाड़ जेल से जमानत और पैरोल पर छोड़े गए 3400 से ज्यादा कैदी लापता हैं। ये तादाद उन कैदियों की है जिन्होंने पैरोल या जमानत की अवधि खत्म होने के बाद भी जेल में सरेंडर नहीं किया। सरेंडर ना करने के बाद अब तिहाड़ जेल की तरफ से ऐसे कैदियों की सूची दिल्ली पुलिस को सौंपी गई है।

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण को बढ़ता देख इन कैदियों को जमानत और पैरोल पर छोड़ा गया था ताकि जेल में कोरोना संक्रमण फैलने पर कैदियों को बचाया जा सके। लेकिन पैरोल या जमानत की तय अवधि पूरी होने के बाद भी 3400 कैदी वापस जेल नहीं लौटे हैं।

जानकारी के मुताबिक पिछले साल जब कोरोना संक्रमण के मामले तिहाड़ जेल में आने शुरू हुए तो जेल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना मुश्किल हो गया। जिसके बाद तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली सरकार एवं अदालत से निवेदन कर 6 हजार से ज्यादा कैदियों को जमानत और पैरोल पर छोड़ा था। इनमें सजा पा चुके कैदियों के साथ ही बड़ी संख्या में विचाराधीन कैदी भी शामिल थे।

छोड़े गए कैदियों बंदियों में ऐसे कैदी भी शामिल थे जिन्हें एचआईवी, टीबी, कैंसर, किडनी आदि गंभीर बीमारियां थी। इन्हें एक तय अवधि के लिए पैरोल और जमानत मिली थी। कुछ कैदियों के लिए इस अवधि को बाद में बढ़ाया भी गया था। लेकिन यह अवधि अब पूरी तरह खत्म हो चुकी है और अभी तक 3468 कैदियों ने जेल में सरेंडर नहीं किया है। जिसके बाद तिहाड़ प्रशाशन ने दिल्ली पुलिस को कैदियों की लिस्ट सौंपी है।

Back to top button