ख़बरदेश

ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में चूक, 14 पुलिसकर्मी निलंबित, जानिए पूरा मामला

नई दिल्ली। भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मुरैना से ग्वालियर के मध्य गाड़ी की सुरक्षा के लिए तैनात एस्कॉर्ट वाहन करीब आठ किलोमीटर तक किसी और वाहन के पीछे चलता रहा। इस बड़ी लापरवाही की वजह से 14 पुलिसकर्मियों को निलंबित करा गया है। गौरतलब है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को जेड श्रेणी की वीआईपी सुरक्षा दी गई है।

चालक को गलतफहमी हो गई

यह घटना तब सामने आई जब जब सिंधिया दिल्ली से ग्वालियर की ओर आ रहे थे। शाम को मुरैना जिले की पायलट गाड़ी (एस्कॉर्ट वाहन) सिंधिया के वाहन के पीछे आती दिखाई दे रही थी। निरावली के निकट मुरैना-ग्वालियर बॉर्डर पर पायलट वाहन के चालक को गलतफहमी हो गई थी। वह सिंधिया की गाड़ी के रंग वाली दूसरी कार के पीछे चलने लगा। आठ किलोमीटर तक पुलिस गलत गाड़ी के पीछे चलती रही।

आठ गलत गाड़ी के पीछे चला पायलट वाहन

करीब आठ किलोमीटर तक गलत गाड़ी के पीछे चलने के बाद जब पुलिकर्मियों को अपनी गलती अहसास हुआ तब तक सिंधिया की गाड़ी काफी आगे निकल चुकी थी। जब सिंधिया का काफिला हजीरा थाने के सामने से निकला तब चूक का पता चला। इसके बाद कार्रवाई करते हुए मुरैना के नौ और ग्वालियर थाने के पांच पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया गया।

इस कारण दूसरी कार को फॉलो किया

भाजपा के राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में चूक किसी बड़ी अनहोनी को दावत दे सकता था। गलतफहमी का कारण एक दूसरी कार थी जो सिंधिया की कार से मिलती जुलती थी। इस कारण दूसरी गाड़ी को पायलट वाहन फॉलो करने लगा। वहीं, जब उन्हें गलती का पता चला तब तक सिंधिया का वाहन काफी दूर निकल आया था। करीब 8 किलोमीटर बिना पायलट वाहन के राज्यसभा सांसद सिंधिया का वाहन चलता रहा है।

Back to top button