देश

जिंदा है मानवता : हिंदू मृतक को मुखाग्नि देने वाला कोई न था, मुस्लिम महिला ने किया अंतिम संस्कार

फाइल

कोल्हापुर :  महाराष्ट्र के कोल्हापुर में एक मुस्लिम महिला ने हिंदू पुरुष का अंतिम संस्कार किया। मृतक हिंदू के सभी रिश्तेदार कोरोना संक्रमित थे। इस वजह से वे उनके अंतिम संस्कार के लिए नहीं आ सके। इसके बाद कोल्हापुर के एक हॉस्पिटल में सीनियर मैनेजर की आयशा राउत ने उनका अंतिम संस्कार करना का फैसला किया।

81 साल के सुधाकर वेदक का 9 मई को कोरोना की वजह से हॉस्पिटल में मौत हो गई थी। आयशा ने बताया, ‘मेरे परिवार ने कोल्हापुर शहर में कब्रिस्तान और श्मशान में काम करने वाले लोगों को पीपीई किट दान करने का फैसला किया था। जब मैं पंचगंगा श्मशान में थी, तो मुझे डॉ. हर्षला वेदक का फोन आया कि उनके पिता का निधन हो गया है।

उन्होंने पूछा कि क्या मैं उनके पिता के अंतिम संस्कार कर सकती हूं, क्योंकि उनके परिवार के सभी सदस्य संक्रमित थे।’ आयशा ने बताया कि सुधाकर वेदक को पहले से जानती थी। उन्होंने हिंदू रीति-रिवाज से उनका अंतिम संस्कार करने का फैसला किया।

Back to top button