सेहत

जादुई है दालचीनी: शहद संग छूमंतर करती है बड़ी-बड़ी बीमारियां

दालचीनी और शहद का मिश्रण सदियों से आयुर्वेद और पारंपरिक चीनी चिकित्सा में उपयोग किया गया है। दालचीनी भारत में प्रयुक्त सबसे पुराने मसालों में से एक है जो कि इसके औषधीय और सौंदर्य लाभों के लिए जाना जाता है। और शहद को अब भी आयुर्वेदिक ग्रंथों में “योगाही” कहा जाता है। जब शहद को किसी अन्य लाभकारी मसाले या जड़ी बूटी के साथ मिलाया जाता है तो यह शरीर में ऊतकों और नसों में गहराई तक पहुँचकर उस विशेष संयोजन के औषधीय गुणों को बढ़ाता है।

शहद और दालचीनी मिश्रण विभिन्न बीमारियों के लिए एक प्राकृतिक इलाज है और इसके बहुत सारे सौंदर्य लाभ हैं। दालचीनी और शहद के लाभों के बारे में जाने। यदि आप मूत्राशय कीड़े या किसी भी पाचन समस्या से पीड़ित हैं, तो यह मिश्रण आपके लिए एकदम सही है!

एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाएं और उसमें एक चुटकी दालचीनी पाउडर की डाल दें। रोज सुबह खाली पेट इसे पिएं। यह आपके पेट से कीड़ों को काफी प्रभावी ढंग से बाहर निकालने में मदद करता है। मिस्र में प्राचीन समय से यह मिश्रण दवाई के रूप में प्रयोग किया आता जा रहा है. दालचीनी और शहद का यह अनोखा मिश्रण हार्ट अटैक के जोखिम से भी बचाता है.यदि आप रोज़ दालचीनी पावडर और शहद का पेस्‍ट टोस्‍ट या वीट ब्रेड पर लगा कर ब्रेकफास्‍ट में खाएं।

तो आपका कोलेस्‍ट्रॉल लेवल नीचे आएगा और स्‍ट्रोक के चांस कम होंगे। अगर कोई व्यक्ति अपने जोड़ी के दर्द और गठिया के रोग से परेशान हो तो इस व्यक्ति को दालचीनी और शहद के मिश्रण का जरूर सेवन करना चाहिए . इसके लिए आपको एक कप गर्म पानी लेना है और उसमे थोड़ी सी दालचीनी और शहद मिलाकर पीना है।

Back to top button