उत्तर प्रदेश

छात्रों को 12 हजार रुपये प्रतिमाह देगी योगी सरकार, ऐसे मिलेगा इस योजना का लाभ

वाराणसी. उत्तर प्रदेश सरकार सूबे में शिक्षा को लेकर कई सारी योजनाएं चला रही है। इनमें कई योजनाएं ऐसी हैं जिनमें पढ़ाई के लिये हजारों रुपये महीने की रकम भी दी जाती है ताकि प्रदेश के आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों की पढ़ाई न रुके और वो उच्च शिक्षा प्राप्त कर अपना जीवन स्तर सुधार सकें। हम आपको उस योजना की जानकारी देंगे जिसमें पढ़ाई के लिये 12 हजार रुपये महीना (How to Get 12000 Per Month Scholarship) तक पाया जा सकता है। इसके लिये नियम व शर्तें भी बेहद आसान हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार ने संत रविदास शिक्षा सहायता योजना (Sant Ravidas Shiksha Sahayata Yojana 2021) शुरू की है। इस योजना में आर्थिक रूप से कमजोर पृष्ठभूमि के छात्र प्राइमरी से लेकर हायर एजुकेशन तक छात्रवृत्ति (Higher Education Scholarship) पा सकते हैं। इसके लिये कुछ जरूरी पात्रता और शर्तें हैं। जो भी इस पात्रता श्रेणि में आएगा वह इस योजना का लाभ उठा सकता है।

क्या है संत रविदास शिक्षा सहायता योजना

यूपी सरकार ने श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा को लेकर बेहद गंभीर है। कमजोर आर्थिक स्थिति के चलते श्रमिकों के बच्चे अक्सर शिक्षा से दूर रह जाते हैं या फिर टैलेंट होते हुए वह उच्च शिषा हासिल नहीं कर पाते। इसके लिये सरकार ने संत रविदास शिक्षा सहायता योजना शुरू की है। इस योजना के तहत उन श्रमिकों के बच्चों को छात्रवृत्ति दी जाएगी। इसमें पहली कक्षा से लेकर मेडिकल (Medical Scholarship) और इंजीनियरिंग (Engineering Scholarship) व शोघ (Research Scholarship) छात्रों को 12,000 रुपये तक छात्रवृत्ति दी जाती है। कक्षा के हिसाब से धनराशि अलग-अलग होती है।

किसे कितनी मिलेगी छात्रवृत्ति

  • पाठ्यक्रमों के नाम सहायता राशि
  • कक्षा 1 से 5 तक 100 रुपये प्रतिमाह
  • कक्षा 6 से 8 तक 150 रुपये प्रतिमाह
  • कक्षा 9 से 10 तक 200 रुपये प्रतिमाह
  • कक्षा 11 और 12 250 रुपये प्रतिमाह
  • आईटीआई और इसके समकक्ष प्रशिक्षण से संबंधित पाठ्यक्रम के लिए 500 रुपये प्रतिमाह
  • पॉलिटेक्निक एवं समकक्ष पाठ्यक्रमों के लिए 800 रुपये प्रतिमाह
  • इंजीनियरिंग एवं समक्ष पाठ्यक्रमों के लिए 3000 रुपये प्रतिमाह
  • मेडिकल पाठ्यक्रमों के लिए 5000 रुपये प्रतिमाह
  • इंजीनियरिंग में पीजी कोर्स के लिये 8000 रुपये प्रतिमाह
  • किसी भी विषय में शोध के लिये 12000 रुपये प्रतिमाह

कौन कर सकता है आवेदन

  • माता या पिता बोर्ड में पंजीकृत निर्माण कर्मकार हो
  • उत्तर प्रदेश राज्य का मूल निवासी
  • उम्र हर साल की 01 जुलाई को 25 साल या उससे कम हो
  • सरकार द्वारा विधिमान्य बोर्ड से मान्यता प्राप्त स्कूलों में पढ़ते हों
  • परिवार के सिर्फ दो बच्चों को ही मिलेगी छात्रवृत्ति
  • छात्रवृत्ति केवल उन्हीं को मिलेगी जिनकी अटेंडेंस 6 प्रतिशत होगी

कैसे करें आवेदन

  • नजदीकी लेबर ऑफिस या तहसीलदार कार्यालय से मिलेगा आवेदन पत्र
  • आवेदन के साथ मांगे गए सभी प्रमाण पत्र संलग्न करें
  • प्रधानाचार्य से अटेस्टेड कराकर दो प्रतियों में जमा होगा
  • लेबर ऑफिस या तहसीलदार कार्यालय में जमा होगा

ये दस्तावेज हैं जरूरी

  • आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • आय प्रमाण पत्र
  • स्कूल का प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट का विवरण

यहां से लें जानकारी

योजना के बारे में तहसीलदार कार्यालय, लेबर ऑफिस और खंड विकास अधिकारी के दफ्तर से भी जानकारी ली जा सकती है। इसके अलावा विभाग की वेबसाइट http://upbocw.in/ पर पूरी जानकारी उपलब्ध है। Helpline Number 18001805412 पर काॅल करके भी जानकारी ले सकते हैं।

Back to top button