जरा हट के

घर-घर में पैदा होगा इंसानी मांस, इस खास वजह से आएगा हमारे खाने के काम!

वॉशिंगटन
अमेरिकी वैज्ञानिकों के एक दल ने खाने के एक किट का ईजाद किया है। इस किट को ओरोबोरोस (Ouroboros) नाम दिया गया है। इस किट की मदद से उपभोक्‍ता इंसान की कोशिकाओं की मदद से खाने योग्‍य मांस पैदा कर सकेंगे। इसे कृत्रिम इंसानी मांस करार दिया जा रहा है। इंसान को अपने घर में अपने मांस को पैदा करने की यह क्षमता नई तकनीक ने मुहैया कराई है। ओरोबोरोस एक तरह का सांप होता था जो अपनी ही पूंछ खाता था।

रूसी समाचार संगठन स्‍पु‍तनिक के मुताबिक इस तकनीक का ईजाद करने कंपनी ओरोशेफ इंक ने कहा है कि वह उपभोक्‍ताओं को अपनी ही कोशिका से मांस पैदा करने की इस तकनीक से जुड़ी हर सुविधा मुहैया कराएगी। इसमें स्‍वस्‍थ कोशिकाओं के निर्माण के लिए पोषक तत्‍व, ढांचा और किचन के अंदर से खाने योग्‍य बनाने के लिए हर जरूरी सामान मुहैया कराएगी। इसके अलावा टूल्‍स और साजोसामान भी देगी।

‘इंसान की प्रोटीन की जरूरत का वास्‍तविक हल’

यह पूछे जाने पर कि क्‍या यह पूरी प्रक्रिया एक तरह से नरमांस भक्षण है, इस पर इंडस्ट्रियल डिजाइनर और परियोजना के सहसंस्‍थापक ग्रेस नाइट ने कहा क‍ि ऐसा तकनीकी रूप से नहीं है। उन्‍होंने कहा, ‘मेडिकल सिस्‍टम में खराब हो चुका इंसानी खून एक कचड़ा है और यह काफी सस्‍ता है और आसानी से उपलब्ध है। हालांकि सांस्‍कृतिक रूप से यह कम स्‍वीकार्य है। लोग समझते हैं कि खुद को खाना नरभक्षिता है जो तकनीकी रूप से यह नहीं है।’

शोधकर्ता ओरकान तेल्‍हन ने कहा, ‘हम खुद को खाने को बढ़ावा नहीं दे रहे हैं, बल्कि इंसान की प्रोटीन की जरूरत का वास्‍तविक हल मुहैया करा रहे हैं। हम एक सवाल करते हैं कि जिस तरह से हम मांस का इस्‍तेमाल खाने के लिए कर रहे हैं, उसे हमें आगे भी जारी रखने के लिए भविष्‍य में किस तरह का त्‍याग करना होगा। भविष्‍य में कौन पशुओं के मांस का पैसा दे पाएगा और उसके पास खुद से ही मांस पैदा करने के अलावा कोई और विकल्‍प नहीं होगा।’

Back to top button