उत्तर प्रदेश

खून जमाने वाली ठंड झेलेगा यूपी, शीतलहर में जमेगी कुल्फी, डरावनी है 7 दिनों की भविष्यवाणी

लखनऊ. पूर्वी दिशा से आ रही हवाओं और कोहरा के कारण प्रदेश के कई हिस्सों में गलन बरकरार है। बीते दिनों बर्फीली हवाओं की वजह से जहां ठंड बढ़ी थी, वहीं अब कोहरे की वजह से मुसीबत और बढ़ गई है। कोहरे के चलते दृश्यता एकदम न के बराबर है। पूर्वी दिशा से आ रही हवाओं और कोहरे के कारण तापमान में उतार-चढ़ाव का दौर जारी है। अधिकतम तापमान कम हो रहा है तो न्यूनतम तापमान बढ़ता जा रहा है। रविवार को दिन का पारा सामान्य से 3 डिग्री कम और रात का न्यूनतम पारा 3 डिग्री अधिक हो गया। धूप न निकलने से लोगों को गलन का अहसास हो रहा है। लखनऊ में रविवार को दिन का पारा सामान्य से तीन डिग्री कम रहा। तापमान घटने से लोग घरों में दुबके रहे।

वहीं उत्तराखंड समेत तमाम पहाड़ों पर जमी बर्फ की ठंडक लेकर हवाएं अब यूपी में तेज गति पकड़ चुकी हैं। जिससे यूपी के जिलों में यकायक तापमान गिरने लगा है। उत्तर पश्चिमी बर्फीली आफत यूपी पर तकरीबन अगले एक सात दिन यानि 24 जनवरी तक जारी रहेगी। पूरा यूपी में कड़ाके की ठंड, शीतलहर और घने कोहरे से ढंक जाएगा।

कोल्ड डे का अलर्ट

वहीं इस बीच मौसम विभाग ने यूपी के 22 जिलों के लिए कोल्ड डे का अलर्ट जारी किया है। लखनऊ के मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के पूर्वानुमान के मुताबिक इन 20 जिलों में दिन के तापमान में काफी गिरावट देखने को मिलेगी। जिसकी वजह से ठिठुरन काफी बढ़ जाएगी। इस जिलों में पश्चिमी यूपी से लेकर तराई और पूर्वांचल के कई जिले शामिल हैं। जिन जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है, उनमें बाराबंकी, हमीरपुर, बहराइच, श्रावस्ती, हरदोई, गोण्डा, कानपुर, सुल्तानपुर, अयोध्या, रायबरेली, अमेठी, बस्ती, संत कबीरनगर, अलीगढ़, आगरा, बिजनौर, अमरोहा, रामपुर, बरेली, गोरखपुर, वाराणसी और सोनभद्र जिले शामिल हैं। इन जिलों में रात का तापमान तो बहुत ज्यादा गिरेगी। इसके अलावा दिन में भी सर्दी काफी ज्यादा पड़ेगी।

पड़ेगा घना कोहरा

वहीं दूसरी तरफ मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने 40 जिलों में बेहद घने कोहरे का भी ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इनमें अवध क्षेत्र, पूर्वांचल, तराई, पश्चिमी यूपी और एनसीआर के तमाम जिले शामिल हैं। घने कोहरे के कारण विजिबिलिटी सुबह के समय न के बराबर रहेगी। हालांकि दिन चढ़ने के साथ ही कोहरा छटने और हल्की धूप निकलने की भी संभावना रहेगी। कुल मिलाकर उत्तर प्रदेश में भीषण ठंड से जल्द छुटकारा मिलने की उम्मीद काफी कम है।

Back to top button