उत्तर प्रदेश

खाक में खाकी का मान: UP के सिपाही पर दलित लड़के का यौन शोषण करने का इल्जाम

हाथरस: यूपी में एक पुलिस चौकी में तैनात सिपाही के खिलाफ दलित लड़के का यौन शोषण का मामला दर्ज किया है। चौकी पर तैनात सिपाही ने 20 दिन तक लड़के का यौन शोषण किया, अब आरोपी फरार है। सिपाही उत्तर प्रदेश पुलिस की आपातकाल सेवा ‘डायल 100’ में तैनात था। हाथरस के एसपी जय प्रकाश सिंह ने बताया कि आरोपी सिपाही संजेश यादव अभी फरार है, उसे निलंबित कर दिया गया है।

पीड़ित लड़के के हाथरस कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराए जाने के बाद आरोपी सिपाही के खिलाफ कार्रवाई की गई। आरोपी सिपाही के छुट्टी जाने के बाद पीड़ित लड़का उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराने की हिम्मत कर पाया। प्रकाश ने बताया कि कोतवाली के सर्किल ऑफिसर सुमन कन्नौजिया को मामले की पड़ताल की जिम्मेदारी दी गई है। साथ ही उन्होंने बताया, ‘कोलवाली पुलिस थाने में आरोपी सिपाही के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। अब पीड़ित लड़के की मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।’

एसपी ने बताया कि आरोपी सिपाही के छुट्टी जाने के बाद चौकी में तैनात एक अन्य पुलिसकर्मी पीड़ित लड़के को कोतवाली थाने लेकर आया, जहां उसने अपनी शिकायत दर्ज करवाई। इसके बाद लड़के की शिकायत दर्ज की गई और मंगलवार रात को लड़के को जिला अस्पताल मेडिकल जांच के लिए भेज दिया गया। आरोपी सिपाही सड़क किनारे एक रेस्तरां में अक्सर जाता था, जहां पर पीड़ित लड़का काम करता था।

पीड़ित की शिकायत के मुताबिक आरोपी पहले उसे चौकी ले गया और खाना बनाने के लिए कहा। बाद में सिपाही ने उसका यौन शोषण करना शुरू कर दिया। बाद में लड़के ने अपनी आपबीती चौकी में तैनात दूसरे पुलिसकर्मियों को बताई, जिन्होंने उसे शिकायत दर्ज कराने की सलाह दी। लेकिन लड़का सिपाही के खिलाफ बोलने की हिम्मत नहीं कर पाया, जिसके बाद 20 दिन तक उसका यौन शोषण होता रहा।

Back to top button