उत्तर प्रदेश

कौशाम्बी का एक गाँव ऐसा जहाँ प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र पर ग्रामीणों ने कभी  नहीं देखा  डॉक्टर 

कौशाम्बी।   आज आप को एक ऐसी हकीकत से रूबरू कराना चाहेंगे जिसको आप इस आधुनिक सदी में सोचने की कल्पना नही कर सकते कौशाम्बी जनपद के मुख्यालय के हाइवे से लगा हुआ मुरतगंज विकास खण्ड का एक गाँव अमिनि लोकीपुर जहा एक दसक पहले नवीन प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र का निर्माण शासन द्वारा कराया गया था जिसमे हॉस्पिटल की सभी सुबिधाये मौजूद थी l जहा वर्तमान मे पाँच स्टापो की नियुक्ति भी है स्टाप की बात करे तो एक पुरुष डॉक्टर के साथ साथ एक महिला डॉक्टर यूनानी एव्ं वार्डबाॅय व लैबअसिस्टेंट व फार्मासिस्ट की नियुक्ति है. 

लेकिन यहा के ग्रामीणों ने इस सोलह बेड के नवीन प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र मे आज तक एक भी डॉक्टरों का चेहरा तक नही देखा जब इस कोरोना के संकट काल मे लोगो को डॉक्टर की अधिक अवसकता पड़ी तो अपने गाँव मे बने नवीन प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र की याद आयी तभी यहा पर इलाज के लिए इसी गाँव के निवासी भारतीय आर्मी के कैप्टन एस के त्रिपाठी पहुँचे तो मालूम हुआ की यहा पर कोई डॉक्टर ही नही आता इसकी जानकारी जब ग्रामीणों से ली गयी तो बताया साहब आज तक हम लोगो ने डॉक्टर को देखे ही नही और महिला डॉक्टर भी है इस बात को तो अन्य स्टाप भी नही जनता है. 

Back to top button