क्राइम

कोरोना में जिंदगी और मौत पर भी भारी पड़ रहा इंसानी लालच, कार व 2 लाख न देने पर पत्नी को बच्चों के साथ घर से निकाला

कानपुर। देश में कोरोना महामारी और इससे हो रहीं हजारों मौतों के बाद भी इंसान का लालच कम होने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच लालच और रूपयों की भूख का मामला यूपी के कानपुर से सामने आया है। कानपुर के बिल्हौर में एक महिला बीते कई माह से अपने पिता के यहां सिर्फ इस बात के लिए रहने को मजबूर है कि उसका पति उसे मारपीट कर 2 लाख रूपये व कार मांग रहा है।

पीड़ित महिला ने थाना बिल्हौर में सोमवार 17 मई को लिखित शिकायत दी थी। शिकायत के मुताबिक बिल्हौर के बाल्मिकी नगर की रहने वाली महिला का आरोप है कि दहेज में कार व 2 लाख रूपये की मांग पूरी ना होने पर उसके पति राजा, ननद किरन, किरन का पति संजय, लाली, अवधेश व राजेंद्र पुत्र गंगाराम ने मारपीट करने के बाद उसे व उसके दो छोटे बच्चों के साथ घर से निकाल दिया। महिला ने अब पुलिस की शरण ली है।

इस मामले में बिल्हौर पुलिस ने राजा पुत्र सोनेलाल, किरन पत्नी संजय, संजय, लाली पत्नी अवधेश सहित राजेंद्र पुत्र गंगाराम पर मुकदमा संख्या 130/2021 के तहत IPC की धारा 498A/323/3/4 दहेज अधिनियन में अभियोग पंजीकृत कर लिया है। पुलिस द्वारा दर्द किए गए मुकदमें में पीड़िता से आएदिन मारपीट करने तथा कार व 2 लाख रूपये मांगे जाने की बात लिखी गई है।

महिला का कहना है कि उसके पिता के पास इतना धन नहीं है कि वह 2 लाख रूपये और कार दे सकें, वह खुद एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखती है। वह अपने पिता के यहां दो छोटे बच्चों के साथ इस महामारी के समय जीवन गुजारने पर मजबूर है। इसके अलावा दोनो बच्चों की परवरिश व उनके भरण पोशण की पूरी जिम्मेदारी महिला पर ही है। महिला ने पुलिस से मुकदमा लिखने के बाद न्याय की गुहार लगाई है।

Back to top button