/** * The template for displaying the header * */ defined( 'ABSPATH' ) || exit; // Exit if accessed directly ?> कोरोना का कहर : दिल्ली में बढ़ते संक्रमण के बीच निजी अस्पतालों में आई ICU बेड की कमी – JanMan tv
जरा हट केदेश

कोरोना का कहर : दिल्ली में बढ़ते संक्रमण के बीच निजी अस्पतालों में आई ICU बेड की कमी

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है। प्रतिदिन मामलों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हो रही है।  इसी तरह राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की हालत भी खस्ता नजर आ रही है। पिछले 24 घंटे में यहां 1,800 से अधिक नए मामले सामने आए हैं। ऐसे में यहां अस्पतालों में भी मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है।

यहां के निजी अस्पतालों में आई ICU बेड की कमी ने सरकार और विशेषज्ञों की चिंता को बढ़ा दिया है।

दिल्ली में यह है कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,881 नए मामले सामने आए हैं और नौ लोगों की मौत हुई है।

इसके साथ ही दिल्ली में संक्रमितों की कुल संख्या 6,57,715 पर पहुंच गई है। इनमें से अब तक 11,006 मरीजों की मौत हो चुकी है और 6,39,164 मरीज उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं।

वर्तमान में यहां सक्रिय मामलों की कुल संख्या 7,545 है और प्रतिदिन इसमें तेजी से इजाफा होता जा रहा है।

निजी अस्पतालों में तेजी से घट रही ICU बेड की संख्या

NDTV के अनुसार दिल्ली में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के चलते अस्पतालों में अचानक मरीजों की संख्या में इजाफा हो गया है। यही कारण है कि निजी अस्पतालों में ICU बेड की कमी आ गई है।

दिल्ली सरकार के कोरोना ऐप के अनुसार शहर के पांच प्रमुख अस्पतालों में से चार में इंटिलेटर केयर यूनिट में वेंटिलेटर ही उपलब्ध नहीं है।

ऐसे में इन अस्पतालों में जाने वाले गंभीर मरीजों को वेंटीलेटर के लिए अन्य अस्पतालों में भेजा रहा है।

स्थिति

निजी अस्पतालों में यह है कि ICU बेड की स्थिति

ओखला के होली फैमिली अस्पताल में सभी आठ ICU बेड भरे हुए हैं। शालीमार बाग में फोर्टिस अस्पताल, मैक्स अस्पताल और वसंत कुंज में भारतीय स्पाइनल इंजरी सेंटर के पास स्थित ICU यूनिट में एक भी वेंटीलेटर बेड उपलब्ध नहीं है।

इसी तरह सर गंगाराम अस्पताल में केवल एक बेड उपलब्ध है। हालांकि, सरकारी अस्पतालों की स्थिति ठीक है।

यहां कोरोनो मरीजों के लिए रखे गए 5,765 बेडों में से 4,301 खाली हैं और 785 वेंटीलेटरों में 544 खाली है।

जानकारी

सरकारी अस्पतालों में खाली है बिना वेंटीलेटर वाले 887 ICU बेड

सरकार के कोरोना ऐप के अनुसार दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में बिना वेंटीलेटर वाले कुल 1,210 ICU बेड में से 887 खाली पड़े हैं। इसके बाद भी सरकार ने मरीजों में आने वाले संभावित उछाल को देखते हुए तैयारी शुरू कर दी है।

बयान

बुनियादी ढांचे को किया जा रहा है मजबूत- बुधिराजा

मैक्स हॉस्पिटल्स के ग्रुप डायरेक्टर डॉ संदीप बुधिराजा ने कहा, “हम मामलों में वृद्धि को देखते हुए उपचार की उचित व्यवस्था सुनिश्चित कर रहे हैं। इसके साथ ही अस्पताल के बुनियादी ढांचे को मजबूत किया जा रहा है।”

इधर, सरकार ने बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों से महामारी से बचाव के सभी नियमों की पालना करने की अपील की है। इसके अलावा सरकार ने मामलों पर नियंत्रण के लिए आवश्यक पाबंदियां भी लगाई है।

संक्रमण

भारत में यह है कोरोना संक्रमण की स्थिति

भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से संक्रमण के 68,020 नए मामले सामने आए और 219 मरीजों की मौत हुई है। यह अक्टूबर के बाद एक दिन में सामने आए सबसे अधिक मामले हैं।

इसी के साथ देश में कुल संक्रमितों की संख्या 1,20,39,644 हो गई है। इनमें से 1,61,843 लोगों को इस खतरनाक वायरस के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी है। सक्रिय मामलों की संख्या पांच लाख के आंकड़े को पार करके 5,21,808 हो गई है।

Back to top button