मनोरंजन

कास्टिंग काउच : ब्यूटी क्वीन से जब कहा गया- ‘कपड़े उतारकर दिखाओ..’

सिनेमा की दुनिया में अक्सर सितारे खुलासा करते हैं कि उन्हें पर्दे पर आने से पहले कास्टिंग काउच (Casting Couch) का शिकार होना पड़ा है। अब साउथ फिल्मों की ऐक्ट्रेस ईशा अग्रवाल (Esha Agarwal) ने कास्टिंग काउच को लेकर अपना अनुभव बताया है। बताते चलें कि ईशा अग्रवाल जैकी श्रॉफ और संजय कपूर के साथ फिल्म ‘कहीं हैं मेरा प्यार’ में नजर आई थीं।

मिस ब्यूटी टॉप ऑफ द वर्ल्ड 2019 का खिताब जीत चुकीं ईशा अग्रवाल ने स्पॉटबॉय को दिए एक इंटरव्यू में कास्टिंग काउच का खुलासा किया। ईशा अग्रवाल ने बताया, ‘मनोरंजन जगत में मेरा सफर आसान नहीं रहा। मुझे इसमें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। लातूर जैसे छोटे कस्बे से आना और मुंबई की गलियों में नाम बनाना किसी चुनौती से कम नहीं है। जब आप एक छोटे शहर से आते हैं तो सबसे पहले आपके शोबिज में जाने के विचार को स्वीकार नहीं करते हैं, इसलिए अपने आप में यह एक बड़ी चुनौती है। लेकिन किसी तरह मैंने खुद को साबित करके अपने माता-पिता को मना लिया और पढ़ाई पूरी करने के तुरंत बाद मुंबई पहुंच गई और ऑडिशन देने लगी।’

ईशा अग्रवाल ने आगे बताया, ‘कास्टिंग काउच आज भी सच है। जब मैं मुंबई में नई आई थी तो एक कास्टिंग पर्सन ने मुझे अपने ऑफिस में बुलाया था। जब मैं अपनी बहन के साथ उसके ऑफिस में पहुंची तो उसने कहा कि उसने कई बड़े कलाकारों को कास्ट किया है और मुझे भी वो अच्छा प्रॉजेक्ट देगा। अचानक से उसने मुझसे कहा कि मैं अपने कपड़े उतार दूं क्योंकि उसे मेरा शरीर देखना है। इसका कारण उसने बताया कि वो मेरे शरीर को देखकर बताएगा कि वो रोल के लिए फिट है या नहीं। मैंने उसके ऑफर को तुरंत मना कर दिया और अपनी बहन के साथ बाहर निकल गई। उसने मुझे कई दिन मैसेज भेजे लेकिन फिर मैंने उसे ब्लॉक कर दिया।’

ईशा अग्रवाल ने मुंबई में अपने सपने पूरे करने के लिए आने वाले लोगों को सलाह दी। ईशा अग्रवाल ने कहा, ‘आपको बहुत से लोग मिलेंगे जो कहेंगे कि वो बड़ी कास्टिंग कंपनी से हैं उनसे बच के रहें। वो आपको कई ऑफर देंगे, लेकिन इस ट्रैप से आपको बचना है। हमेशा सही का चुनाव करें, अगर आपमें काबिलियत है तो बिना किसी कॉम्प्रोमाइज के आपको सफलता जरूर मिलेगी।’

Back to top button