ख़बरराजनीति

कांग्रेस में कौन बनेगा राहुल गांधी का विकल्प, क्या है किसी नेता में इतनी हिम्मत ?

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद कांग्रेस में देशभर में संगठन में बदलाव की चर्चाएं तेज हो गई हैं. पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी भी अपने इस्तीफे पर अड़े हुए हैं. सोमवार को मिलने पहुंचे पार्टी नेता अहमद पटेल और महासचिव केसी वेणुगोपाल को राहुल ने नया नेता चुनने की बात भी बोली. लेकिन अबतक उनका इस्तीफा न तो मंजूर किया गया है और न ही उनकी जगह दूसरा नेता चुनने की कोई कवायद होती दिख रही है.

लोकसभा चुनाव में पराजय को लेकर पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं से नाराज़ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अभी भी अपने इस्तीफे को लेकर अड़े हुए हैं लेकिन वे नए अध्यक्ष की न्युक्ति तक वे पद को खाली नहीं छोड़ेंगे, और अध्यक्ष पद पर बने रहेंगे.

न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं और कहा जा रहा है कि उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को यह अवगत करा दिया है कि अब नया अध्यक्ष चुनने का समय आ गया है.

लेकिन ये सब एक दिखावा है सच बात तो ये है कि 17वीं लोकसभा के चुनाव में करारी शिकस्त मिलने के बाद ही मात्र दिखावेभर के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पद से इस्तीफे की पेशकश करने का नाटक किया. पर, जैसी कि कांग्रेस में वंशवाद की संस्कृति बनी हुई है, उनके इस्तीफे को अस्वीकार करने का नाटक भी किया जा रहा है. कम से कम ऐसा मीडिया में तो कहा जा रहा है.

Back to top button