देश

कांग्रेस के लिए बुरीखबर, सांसद शानवास का इस गंभीर बीमारी के कारण हुआ निधन

केरल में बुधवार को कांग्रेस सांसद एमआई शानवास का निधन हो गया। वह चेन्नई, तमिलनाडु के एक निजी अस्पताल में अपना इलाज करा रहे थे। इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता व लोकसभा सांसद और एमआई शानवास की उम्र 67 साल हो चुकी थी। उन्होंने बुधवार को चेन्नई के डॉ. रॉय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज अस्पताल में अपनी अंतिम सांसें ली।

जानकारी के मुताबिक उनकी पैनक्रिया सर्जरी होनी थी। लंबे समय से वे स्वास्थ्य समस्या से घिरे हुए थे। वह 2 नवंबर को लिवर प्रत्यारोपण सर्जरी भी करा चुके थे। इससे एक दिन पहले ही उन्हें जिगर की बीमारी के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। संक्रमण के कारण वह गंभीर रूप से बीमार थे।

उनका पार्थिव शरीर बुधवार को एर्नाकुलम उत्तर रेलवे स्टेशन पर नूर जहां मंजिल से चेन्नई पहुंचाया जाएगा। गुरुवार सुबह 10 बजे, कब्रिस्तान एर्नाकुलम थॉटम में उनका शरीर दफनाया जाएगा।  शानवास का जन्म 22 सितंबर, 1951 को प्रसिद्ध वकील इब्राहिम कुट्टी और नूरजहान बेगम के घर हुआ था। उनकी पत्नी जुबैदियत है जिनसे उन्हें दो बच्चे हसीब, अमीना हुए। 

शानवास का राजनीतिक कॅरियर 1978 से शुरू होता है। उन्होंने 1978 में युवा कांग्रेस के उपाध्यक्ष, 1983 में केपीसीसी संयुक्त सचिव और 1985 में केपीसीसी के उपाध्यक्ष के रूप में कार्य किया है।
1987 में वडाक्केकर में, फिर 1991 के पट्टांबी के विधानसभा चुनावों में और फिर 1999 में पिरवाय्या लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से उन्होंने चुनाव लड़ा।  

2009 के लोकसभा चुनाव में, शानवास ने केरल से अधिकांश इलाकों में जीत दर्ज की। शानवास ने अपने प्रतिद्वंद्वी को 1,53,439 मतों से पराजित किया था। फिर 2014 के चुनावों में शनावास ने 20870 मतों से जीत दोहराई।

Back to top button