देश

कम लागत में ऐसे शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी अच्छी कमाई

आजकल हर कोई कम निवेश के साथ अपना बिजनेस शुरू करना चाहता है. अगर आप भी ऐसे लोगों में शामिल हैं, जो कम निवेश में बिजनेस का अच्छा ऑप्शन तालाश रहे हैं, तो आज हम आपके लिए एक ऐसा बिजनेस आइडिया लेकर आए हैं, जिससे कम निवेश में आसानी से शुरू किया जा सकता है.

यह बिजनेस स्टाम्प पेपर वेंडर (Stamp Paper Vendor Business) का है. आप भी आसानी से स्टाम्प पेपर विक्रेता (Stamp Paper Vendor) बन सकते हैं. आजकल हर किसी को स्टाम्प की आवश्यकता पड़ती रहती है. अगर आप ये बिजनेस करना चाहते हैं, तो आप सरकार से लाइसेंस हासिल करके आधिकारिक वेंडर भी बन सकते हैं.

  • अगर आप स्टाम्प पेपर विक्रेता बनना चाहते हैं, तो इसके लिए राज्य सरकार के पंजीयन एंव मुद्रांक विभाग से लाइसेंस लेना होगा.
  • इसके बाद स्टाम्प पेपर बेचने के लिए रजिस्टर हो जाएंगे.
  • आप एक सीमित रुपए तक स्टांप पेपर बेच सकते हैं.
  • कई कम्यूटर्स ऑपरेटर्स ये काम कर रहे हैं, साथ ही आधार, पैन, सरकारी योजनाओं संबंधित काम करके अच्छा पैसा कमा रहे हैं.

कैसे मिलता है स्टाम्प पेपर वेंडर के लिए लाइसेंस?

मौजूदा समय में कई राज्यों ने वेंडर के लिए आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी है. ऐसे में जो राज्य  ऑनलाइन सुविधा दे रहे हैं, वहां आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. बता दें कि अब ईस्टाम्प पेपर ज्यादा मान्य हो गए हैं. अब पहले जैसे स्टाम्प पेपर नहीं मिलते हैं. इस तरह आप ईस्टाम्प पेपर प्रिंट करने का बिजनेस कर सकते हैं. इससे लिए सरकार लाइसेंस भी देती है.

कैसे करें स्टाम्प पेपर वेंडर के लिए ऑनलाइन आवेदन?

  • अगर आप इस बिजनेस के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, तो आपके पास csc आईडी होनी चाहिए.
  • इसके बाद सीईसी प्लेटफॉर्म पर ईस्टाम्पिंग के ऑप्शन पर जाकर आवेदन करना होगा.
  • आपको आपके शहर के राजस्व विभाग के ऑफिस में भी संपर्क करना होगा.
  • फिर आपको लाइसेंस मिल जाएगा.

कैसे करें स्टाम्प पेपर वेंडर के लिए ऑफलाइन आवेदन?

जानकारी के लिए बता दें कि कई शहरों में ऑफलाइन आवेदन भी करना पड़ता है. इसके लिए आपको राजस्व विभाग से फॉ़र्म लेकर जमा करवाना होगा. लाइसेंस मिलने के बाद उस तहसील में कहीं भी दुकान खोल सकते हैं.

स्टाम्प पेपर वेंडर बिजनेस के लिए जरूरी दस्तावेज

अगर आप ई स्टाम्प (E Stamp Vendor) बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपके पास कुछ ज़रूरी दस्तावेज सरकार के पास जमा करने होंगे. इनमें आधार कार्ड, पैन कार्ड, सीएससी आईडी, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, एजुकेशन सर्टिफिकेट, कंप्यूटर सर्टिफिकेट दस्तावेज शामिल हैं.

स्टाम्प पेपर वेंडर बिजनेस से मुनाफा

आपको बता दें कि इस बिजनेस में आपको हर स्टाम्प की बिक्री पर कमीशन मिलता है. पहले एक स्टाम्प पर वेंडर ज्यादा पैसे लेते थे, लेकिन अब ई स्टाम्प की व्यवस्था शुरू की गई है. इसकी बिक्री से भी आप अच्छा पैसा कमा सकते हैं.

खबर साभार : कृषि जागरण  

Back to top button