देश

औवेसी ने कांग्रेस को दिया सबसे बड़ा झटका, राहुल को सूझ नहीं रहा अब कोई रास्ता

महाराष्ट्र में जहां भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी दल शिवसेना ने कांग्रेस के साथ नजदीकियां बनाने शुरू कर दी है वही अब राज्य से कांग्रेस से जुड़ी एक और बड़ी खबर सामने आ रही है गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव 2019 से बीजेपी को केंद्र से हटाने की कोशिश में कई विरोधी राजनीतिक दल एकसाथ आ रहे हैं।

अब खबर सामने आ रही है कि राष्ट्रीय राजनीतिक दलों के साथ साथ क्षेत्रीय राजनीतिक दल भी काफी सक्रिय हो गए हैं। वह भी लोकसभा चुनाव के चलते अपनी सीटों को लेकर बड़े फैसले ले रहे हैं। हाल ही में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के बीच गठबंधन की चर्चा चल रही थी। लेकिन अब यह चर्चा फिलहाल के लिए ठप कर दी गई है।

बताया जा रहा है कि सांसद राजू शेट्टी के नेतृत्व वाली स्वाभिमानी शेतकरी संगठन पार्टी ने लोकसभा चुनाव में 3 सीटों की मांग की थी। लेकिन अभी तक राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी द्वारा इस मांग पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। दरअसल सांसद राजू शेट्टी ने हातकणंगले के साथ-साथ बुलढाणा और वर्धा लोकसभा सीट की मांग की थी। लेकिन इस वक्त राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी उन्हें 1 से ज्यादा सीटें देने के पक्ष में नजर नहीं आ रही है।

इसके साथ सांसद राजू शेट्टी इस वक्त आप कांग्रेस या फिर कांग्रेस राष्ट्रवादी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर दुविधा में पड़ गए हैं। दरअसल इसके पीछे की वजह यह बताई जा रही है कि राज्य की 180 चीनी मिलों के पास किसानों के गन्ने का उचित एवं लाभकारी मूल्य का सतारा 100 करोड़ रुपए का भुगतान अभी बाकी है और यह सभी चीनी मिलें ज्यादातर राष्ट्रवादी कांग्रेस और कांग्रेस के नेताओं के कब्जे में हैं।

जिसके चलते राज्य के किसानों में यह नाराजगी है कि स्वाभिमानी शेतकरी संगठन उन्हीं पार्टियों के साथ गठबंधन करने के बारे में सोच रहे हैं। जिन्होंने उनका भुगतान रोक रखा है। अब खबर सामने आ रही हैं कि कांग्रेस से दूरी बनाते हुए अब राजू शेट्टी ओवैसी और प्रकाश आंबेडकर के गठबंधन में शामिल होने के लिए वार्ता कर रहे है। आपको बता दे कि महाराष्ट्र में AIMIM का भारिप बहुजन महासंघ से गठबंधन हो चुका है।

Back to top button