खेलजरा हट के

ओलंपिक 2020: लक्षद्वीप से भी कम है जिस देश की जनसंख्या, उसके लिए इन्होंने गोल्ड जीता

उम्मीदों का बोझ बहुत भारी होता है चाहे देश का आबादी सवा सौ करोड़ हो या कुछ हजार, इस बात का प्रूफ दे रही है बरमूडा की फ्लोरा डफी. Tokyo Olympic टोक्यो में मंगलवार को रेनबो ब्रिज पर शानदार माहौल था. दुनिया भर के ट्रायथलीट तैर रहे थे, साइकिल के पैडल मार रहे थे और मरीन पार्क के चारों तरफ भागते हुए नजर आ रहे थे. इन सब के बाद बरमूडा ने हासिल किया अपना पहला गोल्ड मेडल.

एक छोटे से अटलांटिक आइसलैंड बरमूडा के लिए ये काम फ्लोरा डफी ने किया जिनकी उम्र 33 साल है. बरमूडा Bermuda की जनसंख्या 62278 के करीब है और बरमूडा ओलंपिक गोल्ड मेडल जीतने वाला सबसे छोटा देश बन गया है.

मेडल जीतने के बाद डफी ने कहा कि मुझे लगता है इसके बाद सारा बरमूडा खुशी से पागल हो जाने वाला है. डफी ने कहा ये मेरे लिए एक सपना पूरा होने जैसा है. डफी पिछले पांच सालों से अपने कंधे पर अपने देश के लोगों की उम्मीदों का बोझ लेकर तैयारी कर रही थी. उन्होंने कहा पांच साल ओलंपिक पदक का दावेदार बना रहना बहुत मुश्किल होता है लेकिन अब मेडल जीतने के बाद इसकी वेल्यू समझ आ रही है.

बरमूडा के लिए अपना प्यार जाहिर करते हुए Flora Duffy ने कहा कि ग्रेट ब्रिटेन की टीम ने उन्हें दोहरी नागरिकता के चलते अपनी टीम में शामिल होने का ऑफर दिया था यकीनन वहां बहुत अच्छे संसाधन होते लेकिन मेरे लिए बरमूडा की वेल्यू उन सब से कहीं ज्यादा है.

Medal Tally में अगर भारत को अपना स्थान ऊपर करना है तो डफी की तरह इन उम्मीदों पर खरा उतरना होगा.

Back to top button