देश

एचएस फूलका ने दिया बड़ा बयान, कहा- अमृतसर ब्लास्ट में हो सकता है आर्मी चीफ का हाथ

चंडीगढ़. पंजाब प्रान्त के अमृतसर के राजासांसी में निरंकारी भवन में रविवार को मोटरसाइकिल सवार दो लोगों ने एक ग्रेनेड फेंककर हमला कर दिया. इस हमले में 3 लोगों की मौत और करीब 21 लोगों के घायल हो गए हैं. इस हमले के तुरत बाद एनआईए की टीम ने जांच शुरू कर दी है. एनआईए की टीम ने रविवार को घटनास्थल का दौरा किया और करीब 30 मिनट तक मुआयना किया. इसके बाद एनआईए की टीम ने इसे आतंकी हमले की संभावना से भी इंकार नहीं किया है.

इस घटना के बाद आम आदमी पार्टी के विधायक पद से इस्तीफा दे चुके एडवोकेट एचएस फूलका ने एक विवादित बयान दिया जिसकी अब चारो ओर चर्चा हो रही है. उन्होंने अपने बयान में कहा कि, ‘रविवार को गांव अदलीवाल में निरंकारी भवन में हमले की घटना ने मौड़ मंडी ब्लास्ट की याद ताजा कर दी है. जिसे डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालुओं ने ही किया था.’ इतना ही नहीं फूलका ने तो यहां तक कह दिया कि, ‘हो सकता है आर्मी चीफ विपिन रावत ने अपनी बात को सच साबित करने के लिए खुद ही धमाका कराया हो.’

दरअसल 3 नवंबर को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने एक सेमिनार में ये कहा था कि, ‘पंजाब में आतंकवाद को पुनर्जीवित करने के प्रयास किए जा रहे हैं और अगर जल्द कार्रवाई नहीं की गई तो बहुत देर हो जाएगी.’ रिपोर्ट्स की माने तो रावत भारत में आंतरिक सुरक्षा की बदलती रूपरेखा रुझान और प्रतिक्रियाएं विषय पर आयोजित हुए एक सेमिनार में सेना के वरिष्ठ अधिकारियों, रक्षा विशेषज्ञों, सरकार के पूर्व वरिष्ठ अधिकारियों और पुलिस कर्मियों समेत सभी लोगों को संबोधित कर रहे थे. रावत ने कहा था कि, ‘पंजाब शांतिपूर्ण रहा है, लेकिन इन बाहरी संबंधों के कारण राज्य में उग्रवाद को फिर से पैदा करने के प्रयास किये जा रहे हैं. इसलिए हमें सावधान रहना होगा.’ इतना ही नहीं जब रावत पठानकोट सेना के कार्यक्रम में पहुंचे थे तब भी उन्होंने अपने इसी बयान को फिर दोहराया था.

Back to top button